नीतीश सरकार की पोल खोलने वाले कृषि मंत्री ने PFI के बैन पर उठाए सवाल ,कहा-पहले क्यों नहीं लगा बैन?

206
नीतीश सरकार की पोल खोलने वाले कृषि मंत्री ने PFI के बैन पर उठाए सवाल ,कहा-पहले क्यों नहीं लगा बैन?

खबर राजनीति गलियारे से आ रही हैं जहां आए दिन नए नए बयान आ रहे हैं बिहार के कृषि मंत्री सुधाकर सिंह ने PFI के बैन किए जाने के बाद बड़ा बयान दिया है। उन्होंने पटना एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लों के उस बयान का समर्थन किया है, जिसमें उन्होंने RSS की तुलना PFI से की थी। सुधाकर सिंह ने केंद्र से सवाल पूछा है कि ये काईवाई पहले क्यों नहीं की गई। अब अचानक से इस संगठन को गैरकानूनी क्यों बताया जा रहा है।

आपको बता दें, सुधाकर सिंह ने कहा है कि हमारा भी वही स्टैंड है जो पटना के एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लों का है। उन्होंने कहा है कि PFI जैसे कई संगठन हैं, जो अपने धार्मिक और सामाजिक हितों का प्रतिनिधित्व करते हैं ताकि वे अपनी आइडेंटिटी को बरकरार रख सकें। कृषि मंत्री ने कहा है कि PFI को एक साज़िश के तहत बैन किया गया है।

सुधाकर सिंह ने बीजेपी पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा है कि PFI पर की गई कार्रवाई एक पक्षीय कार्रवाई है। मैं इसे एक समाज को डरने और धमकाने के प्रयास के रूप में देखता हूं। 8 साल से बीजेपी की सरकार है। इन 8 सालों में इसपर कार्रवाई क्यों नहीं की गई। आज अचानक इसपर कार्रवाई होने लगी और इसे बैन कर दिया गया। उन्होंने कहा कि आठ साल से ये लोग सो रहे थे क्या?

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here