चंदौली डीएम ईशा दुहन निर्माणधीन आईटीआई बिल्डिंग का औचक निरीक्षण,घटिया सामग्री का इस्तेमाल करने पर भड़की

256

पटना : डीएम ईशा दुहन बुधवार को चकिया तहसील क्षेत्र के फिरोजपुर गांव में निर्माणधीन आईटीआई बिल्डिंग का औचक निरीक्षण करने पहुंची. जहां उन्होंने देखा कि बिल्डिंग निर्माण कार्य के लिए घटिया सामग्री का इस्तेमाल किया जा रहा है. यह देखकर ईशा दुहन का पारा सातवें आसमान पर चढ़ गया. इस दौरान उन्होंने संबंधित अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई. इससे पहले ईशा दुहन वाराणसी विकास प्राधिकरण में अधिकारी रह चुकी हैं. वहां पर भी वो अपने सख्त तेवर को लेकर काफी चर्चा में रहीं.

डीएम ईशा दुहन ने देखा कि आईटीआई कॉलेज की बिल्डिंग निर्माण में घटिया ईट का प्रयोग किया जा रहा है. फिर क्या था, घटिया निर्माण सामग्री को देखकर वो गुस्से से लाल हो गई. ईशा ने वहां रखी ईटों को उठाकर उनकी गुणवत्ता को चेक किया. ईट की गुणवत्ता बेहद खराब थी जिसके बाद उन्होंने इससे जुड़े अधिकारियों को जमकर फटकार भी लगाई.

उन्होंनें कहा कि मुझे कोई थर्ड क्वालिटी की चीज का इस्तेमाल होते हुए यहां मिला तो मैं आपके और आपके कांट्रेक्टर पर एक्शन लूंगी. ईशा दुहन वहां मौजूद अधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि सभी सामग्री इसका सैंपल लीजिए और उसकी टेस्टिंग कराइए. देखने से ही पता चल रहा है कि यह थर्ड ग्रेड का है. उन्होंने कहा कि थर्ड क्वालिटी का मैटेरियल इस्तेमाल नहीं होगा. ईशा दुहन कहा कि अगर इस तरह की स्थिति आगे दिख गई तो मैं छोडूंगी नहीं.

चंदौली की जिलाधिकारी ईशा दुहन ने बताया कि आज दिनांक 26 अक्टूबर 2022 को फिरोजपुर, चकिया स्थित निर्माणधीन आईटीआई भवन का निरिक्षण किया गया. निरिक्षण के दौरान कार्य की प्रगति धीमी पाई गई और मौके कम मजदूर कार्य करते हुए पाए गए, जिस पर जिलाधिकारी ने नाराजगी जताते हुए तेजी से निर्माण कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए.

उन्होंने मौके से ईंट, सीमेंट, सरिया आदि सामग्री का सैंपल लेकर टेक्निकल टीम को गुणवत्ता की जांच कराने के निर्देश दिए गए हैं. जिलाधिकारी ने बताया कि कार्य की गुणवत्ता से कोई समझौता नहीं किया जायेगा. अगर निर्धारित मानक के अनुसार निर्माण सामग्री नहीं पाई गई या घटिया सामग्री मिली तो सम्बंधित अभियंता और ठेकेदार के खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here