Kaam Ki Baat: घर पर करें मिलावटी मसालों की जांच, काम आएंगे ये ट्रिक

184

Food Adulteration: मसाले केवल स्वाद ही नहीं, अच्छी सेहत (Indian Spices Benefits) के लिए भी जरूरी हैं. बढ़ती डिमांड की वजह से इनमें भी मिलावट किया जा रहा है जिनके सेवन से गंभीर बीमारियां हो सकती हैं.

दिखने में बढ़िया क्वॉलिटी के मसाले मिलावटी भी हो सकते हैं

Kitchen Hacks To Check Adulteration In Spices: अक्सर ऐसा होता है कि सभी मसाले उचित मात्रा में डालने पर भी खाने में वह जायका नहीं आता जैसा हमने सोचा था. इसकी एक वजह होती है मिलावटी मसाले का इस्तेमाल. मसालों की पहचान उसके तेल से होती है. लेकिन कई बार घटिया तकनीक का इस्तेमाल करने से प्रोसेसिंग के दौरान मसालों का प्राकृतिक तेल नष्ट हो जाता है. ऐसे में उनकी खूशबू और मात्रा बढ़ाने के लिए उनके रंग और टेक्सचर से मिलती जुलती चीजों की मिलावट की जाती है. जैसे लाल मिर्च में लाल ईंट का पाउडर या डिटर्जेंट मिक्स किया जाता है. यहां तक कि काली मिर्च में पपीते के बीज सुखा कर मिला दिए जाते हैं.

इन आसान तरीकों से करें मिलावट की पहचान

दालचीनी: अक्सर ठग दालचीनी के नाम पर चाइनीज कासिया (Chinese Cassia) बेच देते हैं. दोनों दिखने में एक जैसे होते हैं. लेकिन असली दालचीनी की खुशबू काफी तेज होती है और छूने में वह पतली होती है. वहीं कासिया छूने में खुरदुरा और मोटा होता है. उसकी खुशबू भी काफी कम होती है. दालचीनी पाउडर पर आयोडीन की एक बूंद डालें. अगर पाउडर नीला हो जाए तो इसका मतलब है कि वह मिलावटी है.

काली मिर्च: काली मिर्च को कूटें. अगर वह दरदरा रहा और आपके हाथ में तेल नजर आए तो समझें कि वह शुद्ध है. अगर कूटने पर वह महीन टुकड़ों में टूट जाए और खुशबू-तेल गायब रहे तो इसका मतलब है कि वह मिलावटी है. FSSAI के अनुसार काली मिर्च में मिलावट जांचने के लिए पानी के ग्लास में एक चम्मच काली मिर्च पाउडर घोलें. अगर वह शुद्ध होगा तो ग्लास की पेंदी पर बैठ जाएगा. मिलावटी काली मिर्च पाउडर सतह पर तैरने लगेगा.

हल्दी: हल्दी में सिंथेटिक डाई, चॉक पाउडर, रंग या केमिकल मिलाए जाते हैं. इनकी जांच के लिए ग्लास में हल्का गर्म पानी लें और उसमें एक चम्मच हल्दी मिलाएं. अगर हल्दी घुल गया और गहरे पीले रंग का नजर आने लगा तो इसका मतलब है कि वह मिलावटी है. शुद्ध हल्दी पानी में घुलते ही फीके रंग का नजर आएगा और ग्लास में नीचे जम जाएगा.

लाल मिर्च पाउडर: लाल मिर्च में आर्टिफिशियल रंग, सिंथेटिक डाई, डिटर्जेंट, ईंट का पाउडर, टैल्क आदि मिलाया जाता है. इसकी शुद्धता की जांच करने के लिए पानी के ग्लास में एक चम्मच लाल मिर्च पाउडर मिलाएं. अगर उसमें मिलावट होगी तो फौरन पानी का रंग बदल जाएगा. आप चाहें तो अपने हाथ में थोड़ा लाल मिर्च पाउडर लेकर उस पर कुछ बूंद पानी की डालें और पाउडर को हथेली पर रगड़ें. इगर उसमें डिटर्जेंट का मिक्सचर होगा तो हाथ में झाग नजर आएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here