बीकानेर में भारत और ओमान की सेना का युद्धाभ्यास हेलीकोप्टर व् ड्रोन से भी किया अभ्यास

199

धोरों में गरजते टैंक और आसमान में मंडराते हेलिकॉप्टर। धमाके और फायरिंग के बीच रस्सी के सहारे हेलिकॉप्टर से जंग के मैदान में उतरते सैनिक। फिर उस ठिकाने की घेराबंदी, जहां दुश्मन (आतंकवादी) छुपे बैठे हैं। चालीस मिनट तक चले इस ऑपरेशन में सेना ने आतंकवादियों को मारकर ‘आतंक का खात्मा’ कर डाला।

शुक्रवार को महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में यह रोमांचक सैन्य ऑपरेशन देखने को मिला। जब भारतीय सेना और ओमान रॉयल आर्मी की टुकड़ी के संयुक्त युद्धाभ्यास ‘अल नजहा-4’ में काउंटर टेररिज्म पर सैन्य ऑपरेशन की रिहर्सल की गई। ऐसे ऑपरेशन भारतीय सेना जम्मू-कश्मीर में आतंकवदियों के खिलाफ करती है।दोनों देशों की सेनाओं के 13 दिन से जारी संयुक्त युद्धाभ्यास के समापन पर एक गांव पर आतंकवादियों के कब्जा करने पर उसे सैन्य कार्रवाई कर मुक्त कराने के ऑपरेशन का लाइव प्रदर्शन किया गया। इसमें सैनिकों ने आइइडी डिस्पोजल के दूर से संचालित वाहन और दुश्मन के ठिकानों का पता लगाने के लिए ड्रोन जैसी तकनीकों का उपयोग किया।भारत और ओमान के सैनिक इस सैन्य अभ्यास से पहले वायु और जल सेना का संयुक्त युद्धाभ्यास कर चुके हैं। ऐसे में यह वार एक्सरसाइज फोर्थ एडिशन भारत और ओमान के बीच बढ़ती सैन्य सहभागिता को और अधिक मजबूती देगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here