पटना मेयर चुनाव : विनीता बिट्टू सिंह को मिल रहा सभी वर्गों का समर्थन और दूसरी तरफ मेयर और डिप्टी मेयर रही दो महिलाओं के बीच मुकाबला….

516
पटना मेयर चुनाव : विनीता बिट्टू सिंह को मिल रहा सभी वर्गों का समर्थन और दूसरी तरफ मेयर और डिप्टी मेयर रही दो महिलाओं के बीच मुकाबला....

पटना नगर निगम की राजनीति में शह और मात का खेल जारी है. बिहार में हो रहे हैं नगर निकाय चुनाव के दौरान इस बार मेयर और डिप्टी मेयर जैसे पदों पर जनता को सीधे अपना जनप्रतिनिधि चुनना है. मेयर और डिप्टी मेयर की लड़ाई हर सीट पर दिलचस्प बनते जा रही है. खासतौर पर राजधानी पटना में अब तक पार्षदों को मैनेज करके जो चेहरे मेयर की कुर्सी पर काबिज होते रहे उनके लिए अब लड़ाई मुश्किल बन गई है. जनता के बीच लोकप्रियता मेयर की जीत के लिए सबसे बड़ी चाबी बन चुकी है. ऐसे में लगातार उम्मीदवार यह प्रयास कर रहे हैं कि जनता के बीच अपने जनाधार को मजबूत किया जाए.

पटना मैहर की रेस में जो चुनिंदा चेहरे सबसे आगे बताए जा रहे हैं, उनमें एक चेहरा विनीता बिट्टू सिंह का है बिट्टू सिंह एक राजनैतिक कार्यकर्ता रहे हैं और उनकी पत्नी विनीता बिट्टू सिंह इस बार मेयर पद की रेस में है. उन्होंने अपना नामांकन बुधवार को दाखिल किया. राजधानी पटना में विनीता बिट्टू सिंह के नामांकन के वक्त भारी तादाद में उनके समर्थक सड़क पर उतरे. विनीता बिट्टू सिंह को सभी वर्गों का समर्थन मिल रहा है.

अगर बात जनसंपर्क अभियान की करें तो इस पैमाने पर भी विनीता बिट्टू सिंह दूसरे उम्मीदवारों से आगे दिख रही हैं. पटना नगर निगम क्षेत्र के विकास को लेकर विनीता बिट्टू सिंह का सीधा संदेश है कि पटना अगर सुंदर और रहेगा तो बिहार की तस्वीर सुंदर दिख पाएगी. राजधानी अगर साफ-सुथरी नहीं रही तो हम इसे स्मार्ट सिटी बनाने का दावा नहीं कर सकते. साथ ही साथ निगम में व्याप्त भ्रष्टाचार को खत्म करने और अन्य एजेंडों को भी विनीता बिट्टू सिंह ने आगे रखा है.

उससे पहले आपको बता दे कुछ बातें

पिछली कार्यकारिणी में एक साथ मेयर और डिप्टी मेयर रही दो महिलाओं के बीच मुकाबला देखने को मिलेगा। निवर्तमान मेयर सीता साहू और निवर्तमान डिप्टी मेयर रजनी देवी इस बार मेयर पद के लिए आमने-सामने मैदान में उतरेंगी।

दिलचस्प यह है कि जिस रजनी देवी को सीता साहू ने डिप्टी मेयर बनने में सहयोग किया था, वही उनको मेयर पद पर चुनौती देंगी।

दोनों ही महिला प्रत्याशियों ने चुनावी अभियान शुरू कर दिया है। साथ ही साथ मेयर पद के लिए दोनों उम्मीदवारों ने अपने नोमिनेशन की तिथि भी तय कर ली है। मिली जानकारी के मुताबिक सीता साहू 21 सितंबर को मेयर पद चुनाव लड़ने के लिए नामांकन करेंगी।

इसी तरह रजनी देवी भी मेयर प्रत्याशी के तौर पर मैदान में उतरने के लिए 23 सितंबर को अपना नोमिनेशन फाइल करेंगी। इन दोनों ही प्रत्याशियों का एक ही पद के लिए आमना-सामना होना काफी रोचक होगा। लोग यह कयास लगा रहे हैं कि इन दोनों ही प्रत्याशियों के मैदान में एक-दूसरे के खिलाफ उतरने से मेयर पद के लिए चुनावी मुकाबला दिलचस्प होगा।

पुरुष प्रत्याशियों का सपना टूटा, अब पत्नियों को अखाड़े में उतारेंगे

2017 के बाद फिर से दूसरी बार भी पटना नगर निगम में मेयर और डिप्टी मेयर के पदों पर महिलाओं का ही कब्जा रहेगा। पिछले चुनाव के बाद पहली बार पटना नगर निगम में सीता साहू महिला मेयर बनी थीं। इसके बाद समीकरण बदला और फिर कार्यकाल के करीब 9 महीने पहले रजनी देवी डिप्टी मेयर बनीं।

बता दें कि सीता साहू के मेयर बनने के बाद विनय कुमार पप्पु डिप्टी मेयर बने। फिर करीब दो साल बाद मीरा देवी डिप्टी मेयर बनी। लेकिन अविश्वास प्रस्ताव लाकर मीरा देवी को हटाया गया। इसके बाद फिर रजनी देवी डिप्टी मेयर बनी और 19 जून 2022 तक कार्यकाल पूरा किया। अब सीता साहू और रजनी देवी के मैदान में आमने-सामने उतरने पर महापौर का चुनाव रोचक हाेने की उम्मीद है।

समर्थकों को मैदान में उतारेंगे प्रभावी लोग
मेयर का पद अनारक्षित महिला और डिप्टी मेयर का पिछड़ा वर्ग की महिला के लिए रिजर्व होने से पुरुष उम्मीदवारों की उम्मीदों पर पानी फिर गया है। अब वे अपनी पत्नी या परिवार की किसी महिला को मैदान में उतारने की तैयारी कर रहे हैं। करीब 15 महिलाएं चुनावी रण में उतरने वाली हैं। संभावित मुख्य नामों में वार्ड-32 की निवर्तमान पार्षद पिंकी यादव, पूर्व महापौर अफजल इमाम की पत्नी महजबी खातून और जेडीयू समर्थक बिट्टू सिंह की पत्नी की भी चर्चा है।​​​​​​​

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here