YouTube पर चलाते हैं आप अपना चैनल तो आपके लिए क्या है बड़ी खबर, पढ़ें –

538

नई दिल्ली: कन्टेंट क्रीएर्ट्स ने गूगल के स्वामित्व वाले यूट्यूब की सेवा की नई शर्तो की आलोचना की है. नए शर्तो के अनुसार, यदि यूजर्स का अकाउंट ‘व्यावसायिक रूप से व्यवहार्य नहीं रहता है’ तो ऐसी स्थिति में कंपनी को यूजर्स के अकाउंट एक्सिस को खत्म करने की शक्ति प्रदान की गई है.

आगामी 10 दिसंबर से नई शर्ते लागू होंगी. वीडियो शेयरिंग प्लेटफॉर्म ने पिछले हफ्ते से यूजर्स को ईमेल भेजना शुरू कर दिया है, ताकि उन्हें आने वाले बदलावों के बारे में सूचना प्राप्त हो सके. यूट्यूब की नई शर्तो के अनुसार, “आपका अकाउंट ‘व्यावसायिक रूप से व्यवहार्य नहीं रहता है’ तो ऐसी स्थिति में यूट्यूब यूजर्स के अकाउंट एक्सिस को खत्म कर सकता है.

इसमें आगे कहा गया है, “समाप्ति या निलंबन के सही कारण के बारे में हम आपको सूचित कर देंगे.”

कन्टेंट क्रीएर्ट्स को यह नया बदलाव बिल्कुल अच्छा नहीं लगा है. ट्विटर यूजर ने लिखा, “सभी यूट्यूब को कहें कि यह ठीक नहीं है. यह सभी को प्रभावित करेगा, जिसमें सभी के पसंद के कन्टेंट क्रीएर्ट्स भी शामिल होंगे. वे कहना चाहते हैं कि यदि उन्हें अब आपसे मुनाफा नहीं होगा तो वह आपके अकाउंट्स को हटा देंगे.”

दूसरे ने लिखा, “यूट्यूब 10 दिसंबर 2019 के बाद से अपनी नई शर्ते लागू कर रहा है. प्लेटफॉर्म पर नए भविष्य के क्रीएर्ट्स को परेशानियां होने वाली हैं.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here