टोकन निरस्त होने पर किसानों ने किया चक्काजाम

321

रायपुर/कांकेर। इस साल धान खरीदी शुरू होने के बाद से लेकर अब तक विवादित रही है। भानुप्रतापपुर के संबलपुर लैंपस में प्रतिदिन धान खरीदी सीमा 780 क्विंटल कर दी गई थी।

शुक्रवार को इस सीमा को बढ़ाकर प्रति दिन 2 हजार क्विंटल करने की मांग को लेकर किसान चक्काजाम कर रहे थे तो उधर सरकार ने खरीदी की सीमा बढ़ाना तो दूर उल्टे 780 से घटाकर 682 क्विंटल कर दिया। केंद्रों में धान खरीदी की सीमा तय होने से पहले से जिन किसानों के टोकन कटे हैं वे ऑटोमेटिक निरस्त हो जा रहे हैं जिसे लेकर किसानों में आक्रोश पनपता जा रहा है। इधर बडग़ांव में भी किसानों ने धरना प्रदर्शन करते हुए कहा कि दो दिनों में व्यवस्था में सुधार नहीं हुआ तो रविवार को बडग़ांव में भी चक्काजाम किया जाएगा।

धान खरीदी को लेकर रोजाना बनने वाले नए नियमों के कारण किसानों और लैंपस कर्मियों में विवाद हो रहा है। संबलपुर लैंपस के तहत कुल 34 गांव के 2185 किसानों ने पंजीयन कराया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here