UPTET 2019: क्या फिर बदली जाएगी परीक्षा की तारीख, सरकार से की गई मांग

462

उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (UPTET – Uttar Pradesh Teachers Eligibility Test) की तारीख में दोबारा बदलाव किए जाने की मांग उठी है। स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (SFI – Students Federation of India) की ओर से उत्तर प्रदेश सरकार से ये मांग की गई है। फिलहाल यह परीक्षा आठ जनवरी 2020 को प्रदेश के विभिन्न जिलों में आयोजित होने वाली है। लेकिन स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (SFI) के सदस्यों ने इसका विरोध किया है। उनका कहना है कि ‘आठ जनवरी को मजदूर संगठनों व कर्मचारी संगठनों ने देशव्यापी हड़ताल की घोषणा की है। छात्रों ने भी शिक्षा के निजीकरण के फैसले को लेकर हड़ताल करने की बात कही है। ऐसे में सरकार द्वारा आठ जनवरी को परीक्षा करवाने का निर्णय परीक्षार्थियों के हित के खिलाफ है। इसलिए फेडरेशन ने सरकार से यूपीटीईटी परीक्षा की तारीख में बदलाव करने की मांग की है।’

सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय की ओर से दी गई सूचना के अनुसार, फिलहाल निर्धारित शेड्यूल के तहत परीक्षा आठ जनवरी को दो पालियों में होगी। पहली पाली में 10 से 12.30 बजे के बीच प्राथमिक स्तर और दूसरी पाली में 2.30 से 5.00 बजे के बीच उच्च प्राथमिक स्तर की उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपीटीईटी) होगी। ये परीक्षा पूर्व निर्धारित केंद्रों पर ही होगी। अभ्यर्थियों को पहले से जारी किए गए प्रवेश पत्रों के जरिए ही केंद्रों में प्रवेश मिलेगा।

रजिस्ट्रार राजशेखर सिंह की ओर से जारी सूचना में कहा गया है कि परीक्षा में शामिल होने वाले ऐसे अभ्यर्थी जिन्होंने अपना प्रवेश पत्र निर्धारित वेबसाइट updeled.gov.in से डाउनलोड नहीं किया है, वे एक जनवरी से इसे डाउनलोड कर सकते हैं। जबकि, ऐसे अभ्यर्थी जो पूर्व परीक्षा तिथि 22 दिसंबर से पहले प्रवेश पत्र डाउनलोड कर चुके हैं, उन्हें नया प्रवेश पत्र डाउनलोड करने की आवश्यकता नहीं है। परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय की ओर से जारी सूचना में कहा गया है कि परीक्षार्थी प्रवेश पत्र में दिए नियमों को ध्यान से जरूर पढ़ लें। ताकि परीक्षा के दौरान किसी तरह की परेशान का सामना न करना पड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here