उन्नाव केस: गैंगरेप पीड़िता से हैदराबाद जैसी हुई हैवानियत, 5 गिरफ्तार

353

नई दिल्ली. उन्नाव जिले के बिहार थाना क्षेत्र के गौरा मोड़ के पास गुरुवार की भोर में गैंगरेप पीड़िता को आरोपितों ने 5 लोगों संग मिलकर जिंदा जलाने का प्रयास किया है. वारदात को उस समय अंजाम दिया जब पीड़िता मुकदमे की तारीख पर रायबरेली के लिए ट्रेन पकड़ने जा रही थी. रेप पीड़िता की हालत गंभीर होने पर रेप पीड़िता को लखनऊ रेफर किया है. इस मामले में पुलिस ने 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है.

गिरफ्तार शिवम त्रिवेदी और शुभम त्रिवेदी पर अगवा कर गैंगरेप का आरोप है. दोनों आरोपित जमानत पर छूटे थे. दिल्ली पुलिस ने दोनों चचेरे भाइयों को घर से ही गिरफ्तार किया गया है. इनके साथ पीड़िता को जिंदा जलाने में मदद करने वाले उमेश बाजपाई, हरिशंकर त्रिवेदी और राम किशोर त्रिवेदी को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है. यह मामला भाजपा के बर्खास्त विधायक कुलदीप सिंह सेंगर से जुड़ा हुआ नहीं है.

बिहार क्षेत्र के हिंदूनगर भाटनखेडा गांव के रहने वाले शिवम त्रिवेदी और शुभम त्रिवेदी ने 12 दिसंबर 2018 को इलाके की एक युवती को अगवा करके रायबरेली जिले के लालगंज थाना क्षेत्र में गैंगरेप किया था. जिसका केस रायबरेली जिले के थाना लालगंज में पंजीकृत है और रायबरेली कोर्ट में मामले की सुनवाई चल रही है. गुरुवार की भोर में करीब 4 बजे पीड़िता रायबरेली जाने के लिए ट्रेन पकडने बैसवारा स्टेशन के लिए निकली थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here