एकदम शाकाहार अपनाने से स्वास्थ्य पे पड़ता है यह प्रभाव, जाने

335

हम सभी ने शाकाहारी के फायदों के बारे में सुना है, व हाँ इसके कई फायदे होते भी हैं. हालाँकि, हम में से कई लोगों को इस बात की जानकारी नहीं है कि एकदम शाकाहार अपनाने से स्वास्थ्य पर क्या उल्टा प्रभाव हो सकते हैं. क्योंकि कोई भी नया आहार आपके शरीर, मस्तिष्क व यहां तक कि आपके मूड पर भी असर डाल सकता है. सकारात्मक व नकारात्मक. इसमें शाकाहारी आहार भी कोई अपवाद नहीं है.

इससे पहले कि आप एक शाकाहारी आहार को अपनाने के लिए अपनी ज़िंदगी शैली को बदलने पर विचार करें, कुछ जरूरी कारक हैं जिन पर आपको विचार करना चाहिए.

नैतिक कारणों के अलावा, कई कारणो से एक आदमी शाकाहारी ज़िंदगी शैली का चयन करेगा, लोग अक्सर कई स्वास्थ्य लाभों का हवाला देते हुए शाकाहारी आहार पर विचार करते हैं. लेकिन आपको यह पता होना चाहिए शाकाहार आपकी पूर्व की मांसाहारी आदतों की पूर्ति नहीं कर सकता. हालांकि कई स्वास्थ्य फायदा हो सकते हैं, इससे वजन कम होने कि सम्भावना है, दिल रोग का खतरा कम होने कि सम्भावना है या कुछ पोषक तत्वों की अधिकता हो सकती है, इसके साथ कुछ कमियां हो सकती है, जिनकी पूर्ति आपके पुराने आहार के बदले नया आहार नहीं कर सकता.

गंभीर स्वास्थ्य जोखिम
शाकाहार से आप कुछ अच्छे पोषक तत्व प्राप्त कर सकते हैं, तो कई जरूरी हैं पोषक तत्व छूट भी सकते हैं. जैसे कि विटामिन डी, कैल्शियम व ओमेगा -3 फैटी एसिड.

जिस नए आहार पर आप विचार कर रहे हैं उसमें यह देखना जरूरी है कि आपके व आपकी आवश्यकताओं के लिए क्या अच्छा है व ऐसी जीवनशैली अपनाने से पहले अपने खुद के पर्सनल स्वास्थ्य पर विचार करें जो आपके शरीर की जरूरतों के लिए उपयुक्त नहीं है, उसे न अपनाएं. अच्छा रहेगा की आहार और जीवनशैली में परिवर्तन से पहले चिकित्सक से परामर्श करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here