सोनिया गांधी ने सरकार से पूछा 17 मई के बाद का प्लान, कांग्रेसी मुख्यमंत्रियों से की चर्चा

267

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने केंद्र सरकार से लॉकडाउन के बाद का रोडमैप पूछा है. कोरोना महामारी और लॉकडाउन के बाद के कामों को लेकर कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक के दौरान सोनिया गांधी ने केंद्र सरकार से पूछा कि लॉकडाउन जारी रखने को लेकर सरकार कौन से मापदंड का इस्तेमाल कर रही है? इस बैठक में कांग्रेस के मुख्यमंत्रियों ने केंद्र सरकार से आर्थिक पैकेज की मांग दोहराई. वहीं कोरोना के जोन तय करने में राज्यों से सलाह ना लेने के आरोप लगाए.

 

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा, “17 मई के बाद क्या होगा और कैसे होगा? लॉकडाउन कब तक जारी रहे यह तय करने के लिए भारत सरकार कौन से मानदंड अपना रही है?”

 

बैठक में मौजूद पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने सोनिया गांधी की बात को आगे बढ़ाते हुए कहा, “हमें पता होना चाहिए कि लॉकडाउन 3.0 के बाद क्या होगा.” मनमोहन सिंह ने आगे कहा कि मुख्यमंत्रियों को चर्चा करने के बाद भारत सरकार से पूछना चाहिए कि देश को लॉकडाउन से बाहर निकालने की रणनीति क्या है?

 

वहीं राहुल गांधी ने कहा कि कोरोना से प्रभावी लड़ाई के लिए जरूरी है कि बुजुर्गों, डायबिटिक और हृदय रोगियों को बचाया जाए. मुख्यमंत्रियों और पूर्व वित्तमंत्री पी चिदंबरम के राज्यों के वित्तीय संकट को लेकर चिंता व्यक्त करते हुए केंद्र सरकार से मदद की मांग की. पुडुचेरी के मुख्यमंत्री नारायण सामी ने कहा कि राज्यों के लिए वित्तीय पैकेज के मुद्दे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक शब्द नहीं बोलते.

 

कोरोना के जोन तय करने में राज्य सरकारों की उपेक्षा पर कांग्रेस के मुख्यमंत्रियों ने केंद्र सरकार पर तीखे शब्दों में निशाना साधा. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि हकीकत से अंजान लोग दिल्ली में बैठ कर जोन तय कर रहे हैं. कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बताया कि उन्होंने लॉकडाउन से निकलने और अर्थव्यवस्था को लेकर दो कमेटियां गठित की हैं.

 

सोनिया गांधी के साथ बैठक में कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने उन्हें आश्वासन दिया कि प्रवासी मजदूरों के रेल किराए को उनकी सरकार वहन करेगी, साथ ही उन्होंने रेलवे से विशेष ट्रेन की मांग भी की है. पंजाब के मुख्यमंत्री ने जानकारी दी कि उन्होंने इस मद में 35 करोड़ रुपए जारी किए हैं क्योंकि रेलवे प्रति टिकट के 870 रुपए चार्ज कर रही है जिसे राज्य सरकार दे रही है.

 

कोरोना को लेकर कांग्रेस के मुख्यमंत्रियों के साथ सोनिया गांधी की ये दूसरी बैठक थी. कोरोना को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष लगातार सक्रिय नजर आ रही हैं. एक तरफ उन्होंने इसको लेकर पार्टी के अंदर लगातार बैठकें की हैं वहीं केंद्र सरकार को अलग अलग समय पर सुझाव भी दिए हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here