छत्तीसगढ़ में आदिवासियों के साथ थिरके राहुल गांधी

333

रायपुर. राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव का आगाज छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में हो चुका है. 27 से 29 दिसंबर तक आयोजित इस कार्यक्रम का शुभारंभ कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष व लोकसभा सांसद राहुल गांधी ने किया. रायपुर के साइंस कॉलेज मैदान में आयोजित इस कार्यक्रम में राहुल गांधी ने छत्तीसगढ़ के आदिवासी नृत्य की प्रस्तुति के दौरान खुद को नहीं रोक पाया. राहुल गांधी मान्दर लेकर आदिवासियों के साथ थिरकने लगे. कुछ देर तक उन्होंने नृत्य किया. इस दौरान सीएम भूपेश बघेल, पीसीसी चीफ मोहन मरकाम ने भी उनके साथ नृत्य किया.

राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव का उद्घाटन करने के बाद सांसद राहुल गांधी ने आदिवासी नृत्य की प्रस्तुतियों को देखा. राहुल गांधी ने कहा कि छत्तीसगढ़ की सरकार हर वर्ग के लिए काम कर रही है, आदिवासी और गरीबों पर इनका फोकस है. इसके लिए भूपेश बघेल सरकार को बधाई. केन्द्र सरकार की नीतियों के कारण आज देश के कई राज्य जल रहे हैं, लेकिन छत्तीसगढ़ शांत है. इससे साबित होता है कि प्रदेश सरकार कितना अच्छा काम कर रही है. आदिवासी नृत्य और संगीत को जानने व समझने के लिए ये अच्छा मौका है, एक मंच से ही देशभर की आदिवासी कला और परंपरा को जानने का मौका मिलेगा.

सीएम ने कही ये बातसीएम भूपेश बघेल ने आदिवासी नृत्य महोत्सव में कहा कि राहुल गांधी के निर्देश के अनुसार ही प्रदेश की कांग्रेस सरकार काम कर ही है. किसानों के हित में लिए कर्ज माफी, धान का समर्थन मूल्य या फिर आदिवासियों के हित में जमीन वापसी व अन्य निर्णय राहुल गांधी की मंशा के अनुरूप ही लिए हैं. केन्द्र की सरकार देश की एकता को समाप्त करना चाहती है. इसलिए ही काले कानून ला रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here