गोडसे को लेकर बयान पर प्रज्ञा ठाकुर की सफाई

358
लोकसभा में सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने गोडसे पर दिए बयान पर सफाई दी है। सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने कहा कि मेरे बयान को तोड़-मरोड़कर पेश किया गया। सदन के एक सदस्य ने मुझे सार्वजनिक तौर पर आतंकवादी कहा। मेरे खिलाफ सरकार द्वारा किए षड्यंत्र को लेकर मुझे आतंकी कहा गया जबकि मुझपर कोई भी आरोप सिद्ध नहीं हुआ।

किसी को ठेस पहुंची तो माफी मांगती हूं। मैं महात्मा गांधी के काम का सम्मान करती हूं। मेरे बयान को तोड़-मरोड़कर पेश किया गया। सदन के एक सदस्य ने मुझे सार्वजनिक तौर पर आतंकवादी कहा। मेरे खिलाफ सरकार द्वारा किए षड्यंत्र को लेकर मुझे आतंकी कहा गया जबकि मुझपर कोई भी आरोप सिद्ध नहीं हुआ। बिना आरोप साबित हुए मुझे आतंकी कहना गैर-कानूनी है। मुझे शारीरिक और मानसिक तौर पर प्रताड़ित किया गया। मेरे सम्मान पर हमला करके मुझे अपमानित किया गया।

पार्टी के बड़े नेताओं से मिलीं साध्वी प्रज्ञा ठाकुर

इससे पहले साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा, महासचिव भूपेंद्र यादव और संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी से मुलाकात कीं। संसद भवन में हुई बैठक में भाजपा के बड़े नेताओं ने प्रज्ञा ठाकुर को अपना पक्ष रखने के लिए कहा।

सत्य यह है कि मैंने उधम सिंह जी का अपमान नहीं सहा बस: प्रज्ञा

वैसे तो सियासी बवाल के बीच प्रज्ञा ने गुरुवार को सफाई दे दी थी। उन्होंने कहा कि कभी कभी झूठ का बवंडर इतना गहरा होता है कि दिन में भी रात लगने लगती है। किंतु सूर्य अपना प्रकाश नहीं खोता। पलभर के बवंडर से लोग भ्रमित न हों, सूर्य का प्रकाश अस्थाई है। सत्य यह है कि मैंने उधम सिंह जी का अपमान नहीं सहा बस।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here