120 रुपए किलो पर पहुंचा प्‍याज का खुदरा भाव

248

नई दिल्‍ली। बुधवार को देश में प्‍याज का खुदरा मूल्‍य 120 रुपए किलो तक पहुंच गया। उपभोक्‍ता मामलों के मंत्रालय के अनुसार तिरुचिरापल्ली में प्‍याज का खुदरा मूल्‍य 120 रुपए किलो तक पहुंच गया।

मंत्रालय ने बताया कि इसके अलावा त्रिशूर में प्‍याज का खुदरा मूल्‍य 100 रुपए किलो, वायनाड में भी 100 रुपए प्रति किलो, कोजीकोड में 105 रुपए प्रति किलो, एर्नाकुलम में 100 रुपए प्रति किलो, इंफाल में 100 रुपए प्रतिकिलो, ईटानगर में 100 रुपए प्रति किलो और कोलकाता में 100 रुपए प्रति किलो पर बिक रहा है।

राष्‍ट्रीय बागवानी अनुसंधान एवं विकास प्रतिष्‍ठान की वेबसाइट के मुताबिक प्‍याज की थोक मंडी महाराष्‍ट्र के लासलगांव में लाल प्याज का भाव बुधवार को 5501 रुपए प्रति क्विंटल रहा। इससे पहले इसी महीने की 4 तारीख को भी प्‍याज का थोक भाव 5501 रुपए प्रति क्विंटल था। यह 22 अगस्‍त, 2015 के बाद प्‍याज का सबसे ऊंचा थोक भाव है। 22 अगस्त 2015 को प्‍याज का थोक भाव 5700 रुपए प्रति क्विंटल था।

लासलगांव में उन्हाली किस्‍म की प्याज का थोक भाव बुधवार को 7051 रुपए प्रति क्विंटल पर पहुंच गया है। अच्छी क्वॉलिटी के प्याज को उन्हाली प्याज कहते हैं। राष्‍ट्रीय राजधानी में एक बार फ‍िर से प्‍याज की बढ़़ती कीमतों के बीच मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि केंद्र द्वारा दिल्‍ली सरकार को बफर स्‍टॉक से सस्‍ती कीमत पर प्‍याज की आपूर्ति बंद करने के कारण ऐसा हो रहा है।

मुख्‍यमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार ने पिछले 2-3 दिनों से दिल्‍ली सरकार को प्‍याज की आपूर्ति बंद कर दी है। आपूर्ति बाधित होने की वजह से प्‍याज की कीमत फ‍िर से बढ़ने लगी है।

एमएमटीसी ने मिस्र से 6,090 टन प्याज आयात के लिए किया अनुबंध
सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी एमएमटीसी ने मिस्र से 6,090 टन प्याज आयात का अनुबंध किया है। इसे राज्यों को 52 से 60 रुपये किलो की दर पर दी जाएगी। प्याज के चढ़ते दाम पर अंकुश लगाने के लिये आपूर्ति बढ़ाने के इरादे से यह कदम उठाया गया है। केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने पिछले सप्ताह ही 1.2 लाख टन प्याज आयात को मंजूरी दी है। सरकार ने 100 रुपए प्रति किलो पर पहुंचे प्याज के खुदरा दाम पर अंकुश लगाने के लिए यह फैसला किया।

एक आधिकारिक बयान के अनुसार, एमएमटीसी ने मिस्र से 6,090 टन प्याज आयात का आर्डर दिया है। यह मुंबई के न्हावा शेवा (जेएनपीटी) बंदरगाह पर पहुंचेगा। यह प्याज राज्य सरकारों को मुंबई से लेने पर 52-55 रुपए किलो पर उपलब्ध होगा, जबकि दिल्ली से लेने पर 60 रुपए किलो पड़ेगा। राज्य सीधे आयातित प्याज उठा सकते हैं। उनके पास नाफेड के जरिये भी प्राप्त करने का विकल्प है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here