बहुत अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं बचे, लिहाजा दीर्घकालिक लक्ष्य तय नहीं करता : छेत्री

384

नई दिल्ली:भारतीय फुटबाॅल कप्तान सुनील छेत्री ने शुक्रवार को कहा कि भारतीय टीम के साथ उनके अब बहुत अधिक मैच नहीं बचे है और यही वजह है कि वह दीर्घकालिन लक्ष्य तय नहीं कर रहे। छेत्री ने कहा कि अब से वह मैच दर मैच रणनीति बनाएगे।

एआईएफएफ की एक विज्ञप्ति में छेत्री ने कहा, ‘मुझे पता है कि अब मुझे बहुत अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं खेलने हैं। मैं इसी वजह से मैच दर मैच रणनीति बनाऊंगा।’ क्रिस्टियानो रोनाल्डो के बाद सर्वाधिक अंतरराष्ट्रीय गोल करने वाले इस स्ट्राइकर ने कहा कि फिटनेस का स्तर बनाए रखने के लिए उन्हें काफी मेहनत करनी होगी। उन्होंने कहा, ‘एक टीम के रूप में हम ज्यादा से ज्यादा मैच जीतना चाहते हैं।हमारा लक्ष्य एएफसी एशियाई कप चीन 2023 के लिये क्वालीफाई करना है। हमें इसके लिए लगातार प्रयास करने है । टीम आत्मविश्वास से ओतप्रोत है और हम चीन को हरा सकते हैं।’

भारत के फीफा विश्व कप क्वालीफायर में पांच मैचों में तीन अंक है और अब उसे 26 मार्च को कतर से खेलना है। अगले साल के लक्ष्य के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा कि वह बेहतर इंसान बनना चाहते हैं। उन्होंने कहा, ‘मैं बड़े वादे नहीं करता लेकिन पहले से शांतचित्त होना चाहता हूं। मैं अधिक पढना और अपने प्रियजनों के साथ अधिक समय बिताना चाहता हूं। खान पान की स्वस्थ आदतें रखना और देश दुनिया के बारे में जानना चाहता हूं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here