New Year 01 january 2020: आपकी जेब पर असर डालने वाले कई बदलाव

466

नई दिल्ली। नए साल आने में अब चंद घंटे ही बचे हैं। आपके पैसे को लेकर कई तरह के नियम नए साल यानी 1 जनवरी 2020 से बदल जाएंगे। इन बदलावों को पहले से ही जान लेने पर आपका फायदा ही फायदा होगा। आधार कार्ड, पैन कार्ड, राशन कार्ड, एटीएम इस्तेमाल, जीएसटी, कार्ड स्वैप, पेंशन, इनकम टैक्स रिटर्न फाइलिंग और इंश्योरेंस समेत कई चीजों में बदलाव किया जा रहा है। तो फिर बिना देर किए फटाफट जानिए नए नियमों के बारे में जो 1 जनवरी 2020 से लागू हो रहे हैं।

ये है नए बदलावों की पूरी लिस्ट

सबसे पहले यदि आपने अभी तक आधार से पैन को लिंक नहीं कराया है तो ऐसे में आप नए साल में न तो इनकम टैक्स भर पाएंगे, न कहीं निवेश कर पाएंगे, न लोन ले सकेंगे और न ही बैंक अकाउंट खोल पाएंगे। 31 दिसंबर 2019 तक पैन कार्ड को आधार से लिंक कराना जरूरी है। ऐसा नहीं करने पर 1 जनवरी 2020 से आपका पैन कार्ड अवैध माना जाएगा।
श्रम मंत्रालय कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के कर्मचारी पेंशन योजना के तहत पेंशन कोष से एकमुश्त आंशिक निकासी यानी कम्युटेशन की सुविधा 1 जनवरी, 2020 से देगा। इस कदम से 6.3 लाख पेंशनभोगियों को लाभ होगा। इस सुविधा के तहत पेंशनधारक को अग्रिम में पेंशन का एक हिस्सा एकमुश्त दे दिया जाता है।

रसोई सिलेंडर गैस के दाम 1 जनवरी 2020 को तय किए जाएंगे। बता दें कि रसोई गैस सिलेंडर के दामों में लगातार चार महीने से बढ़ोत्तरी की जा रही है। हालांकि, नए साल में घरेलू रसोई गैस के दामों में कमी होने की संभावना जताई जा रही है।

एसबीआई ग्राहकों के लिए 3 बड़ी खबरें हैं। एक तो आरबीआई के नियमों में मुताबिक 1 जनवरी 2020 से ग्राहक को बैंकों के जरिए एनईएफटी ट्रांजेक्शन करने के लिए कोई चार्ज नहीं देना होगा। आरबीआई ने 16 दिसंबर से 24 घंटे नेफ्ट ट्रांजैक्शन सर्विस शुरू है। दूसरा एसबीआई ने अपने सभी ग्राहकों को मैग्नेटिक स्ट्रिप डेबिट कार्ड को ईएमवी चिप और पिन बेस्ड कार्ड्स में बदलने के लिए कहा है। 1 जनवरी 2020 से ईएमवी चिप वाला कार्ड ही मान्य होगा। यानी अगर आपने अपना कार्ड नहीं बदलवाया तो आपका कार्ड ब्लॉक हो जाएगा यानी आप ट्रांजेक्‍‍शन नहीं कर पाएंगे। जिस कारण आपको पैसों की दिक्कत हो सकती है। हालांकि, पुराने कार्ड का रिप्लेसमेंट अभी फ्री ऑफ कॉस्ट है। तीसरा नियम एटीएम से क्लोनिंग व धोखाधड़ी रोकने के लिए एसबीआई ने कैश निकालने पर ओटीपी व्यवस्था शुरू की है। 1 जनवरी 2020 से रात 8 बजे से सुबह 8 बजे तक 10 हजार रुपए से ज्यादा की निकासी पर आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी भेजा जाएगा, जिसके बाद ही कैश निकाला जा सकेगा।

नया साल आ रहा है तो खरीददारी तो होगी ही ऐसे में यदि आप कार्ड स्वैप कराते हैं तो आपका फायदा होने वाला है। 1 जनवरी 2020 से 50 करोड़ रुपए से अधिक टर्नओवर वाली कंपनियों को अपने ग्राहकों को बिना किसी मर्चेंट डिस्काउंट रेट (एमडीआर) शुल्क के डेबिट कार्ड और UPI QR कोड के जरिए भुगतान की सुविधा उपलब्ध करानी होगी। यानी रूपे कार्ड और UPI ट्रांजेक्शंस पर एमडीआर शुल्क का वहन सरकार करेगी।

जीएसटी रजिस्ट्रेशन को आसान बनाने के लिए आधार के जरिए जीएसटी रजिस्ट्रेशन का ऐलान किया गया है। एनुअल रिटर्न फाइल करने की समयसीमा 2 महीने बढ़ाकर 30 अगस्त 2019 कर दी गई थी, जबकि नया जीएसटी रिटर्न फाइलिंग सिस्टम 1 जनवरी 2020 से लागू होगा।

नए साल से सोने की खरीदारी से जुड़े नियमों में बदलाव हो सकता है। सरकार नए साल से गहनों की हॉलमार्किंग जरूरी कर सकती है। पूरे देश में नए नियम 15 जनवरी 2021 तक लागू हो जाएंगे। अभी सोने के गहनों पर हॉलमार्किंग स्वैच्छिक है। नए नियम लागू होने के बाद सभी ज्वेलर्स के लिए हॉलमार्किंग जरूरी होगी।

1 जनवरी 2020 से सभी गाड़ियां महंगी हो जाएंगी। ज्‍यादातर ऑटो निर्माता कंपनियां कीमतें बढ़ाएंगी। उत्सर्जन मानक BS-6 लागत में बढ़ोतरी की वजह से कीमतें बढ़ेंगी। मारुति और टाटा मोटर्स इस बाबत ऐलान कर चुकी हैं। इसके साथ ही महिंद्रा एंड महिंद्रा ने भी दाम बढ़ाने की बात कही है। बता दें कि, केंद्र सरकार ने 1 अप्रैल 2020 से बीएस-6 वाहन ही बेचने का फैसला लिया है।

राष्ट्रीय राजमार्गों पर इलेक्ट्रॉनिक रूप से टोल कलेक्शन शुरू हो चुका है। 15 जनवरी 2020 से सभी गाड़ियों पर फास्टैग अनिवार्य हो जाएगा। हाइवे पर टोल से गुजरने वाले सभी वाहनों पर फास्टैग जरूरी होगा। बता दें कि अब तक करीब 1 करोड़ फास्टैग जारी हो चुके हैं। फास्टैग लेन से सिर्फ टैग लगी गाड़ियां ही गुजरेंगी। अगर बिना फास्टैग वाली गाड़ियां फास्टैग लेन से गुजरती हैं तो उन्हें दोगुना टोल देना होगा।

नए साल पर एसी, फ्रिज 6000 रुपए तक महंगे हो जाएंगे। अब 5 स्टार एसी, फ्रिज की कीमतों में इजाफा होगा। बता दें कि कीमतों में बढ़ोतरी नए एनर्जी लेवलिंग नॉर्म्स लागू होने के कारण की जा रही है। अब एसी और फ्रिज में कूलिंग के लिए फोम की जगह वैक्यूम पैनल का इस्तेमाल होगा।

एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड योजना को लेकर केंद्र सरकार ने राशन कार्ड का स्टैंडर्ड फॉर्मैट तैयार किया है। योजना के तहत एक जगह से दूसरी जगह जाने पर कार्ड के लाभ के लिए नए राशन कार्ड की आवश्यकता नहीं होगी।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (PMVVY) के तहत पेंशन पा रहे वरिष्ठ नागरिकों के लिए अब आधार अनिवार्य कर दिया गया है। साथ ही 15 जनवरी 2020 तक डेबिट या क्रेडिट कार्ड से इंडियन ऑयल के पेट्रोल पंप पर पेट्रोल या डीजल भराने पर आपको 10 प्रतिशत का गारंटीड कैशबैक मिलेगा।

1 फरवरी 2020 से जीवन बीमा पॉलीसी के नियम बदल जाएंगे। आईआरडीए बीमा कंपनियों को आदेश दे चुका है। ये बदलाव केवल लिंक्ड, नॉन लिंक्ड जीवन बीमा पॉलीसी में होगा। इस पॉलिसी के लागू होने के बाद प्रीमियम महंगा हो जाएगा और गारंटीड रिटर्न थोड़ा कम हो सकता है। पॉलीसी मैच्योरिटी पर निकासी की सीमा 33 प्रतिशत से बढ़ाकर 60 प्रतिशत होनी संभव है। पॉलिसी लेने वाले को गारंटीड रिटर्न का विकप्ल भी मिलेगा। इसके साथ ही यूलिप निवेशकों के लिए मिनिमम लाइफ कवर घट जाएगा।

वित्त वर्ष 2018-19 के लिए जिन्होंने अभी तक इनकम टैक्स नहीं भरा है, वे 31 मार्च 2020 तक इनकम टैक्स रिटर्न फाइल कर सकते हैं, लेकिन 31 दिसंबर 2019 तक रिटर्न फाइल करने पर लेट फीस 5 हजार रुपए लगेगी। लेकिन यदि आपने 31 दिसंबर 2019 के बाद इनकम टैक्स रिटर्न फाइल किया तो आपको 10,000 रुपए का जुर्माना देना होगा। हालांकि, जिनकी इनकम 5 लाख से कम होगी उनसे 1000 रुपए का ही जुर्माना वसूला जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here