नए साल में कारो के दामों में क्यों होती है वृद्धि, जाने

186

कुछ दिनों पहले मारुति सुजुकी कंपनी ने घोषणा की थी कि नए साल में कारों की कीमतें बढ़ने वाली हैं। मारुति सुजुकी के इस एलान के बाद अन्य कार निर्माता कंपनियों ने भी अपनी कारों की कीमत में इजाफा करने का निर्णय लिया है। लेकिन अहम सवाल यह है कि आखिर क्यों नए साल पर कार कंंपनियां गाड़ियों के दाम बढ़ाने वाली हैं। ऑटो सेक्टर से जुड़े विशेषज्ञों का मानना है कि कार कंपनियां अपनी पुराने स्टॉक को बेचने के लिए नए साल पर दाम बढ़ाने की घोषणा कर रही हैं। जानकारों के मुताबिक कंपनियां अभी से दाम बढ़ाने की घोषणा करेंगी, तो ग्राहक पुराने दाम पर खरीदारी करने और पैसे बचाने के लिए कार खरीदने के लिए आएंगे। इससे कार कंपनियों का पुरानी इनवेंटरी इसी साल खत्म हो जाएगी।

वहीं कार विक्रेताओं का कहना है कि कार कंपनियां BS6 इंजन लॉन्च करने की तैयारी कर रही हैं और इससे कंपनियों की लागत बढ़ रही है। इसके चलते कंपनियां कार की कीमतें बढ़ाने जा रही हैं। वहीं जीएसटी काउंसिल भी कारों पर टैक्स बढ़ा सकती हैं, जिसके बाद कारों की कीमतों में बढ़ोतरी होना तय है।बता दें कि फिलहाल मारुति सुजुकी ने अभी यह नहीं बताया है कि वह अपनी कारों की कीमत कब से बढ़ाने वाले हैं।वहीं मारुति सुजुकी ने एक प्रेस विज्ञपति जारी कर कहा पिछले एक साल से कंपनी पर बढ़ी लागत का बुरा असर पड़ा है। ऐसे में कंपनी के पास दाम बढ़ाने के अलावा कोई विकल्प नहीं है।हाल ही में टाटा मोटर्स ने भी जनवरी से गाड़ियां महंगी करने का एलान कर दिया है। ऐसे में इसी संभावना है कि अन्य प्रतिद्वंदी कार कंपनियां हुंद्ए (Hyundai Motor India) और महिंद्रा एंड महिंद्रा (M&M) भी अपनी गाड़ियों के दाम बढ़ाने पर निर्णय ले सकती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here