थाना भूपदेवपुर के ग्राम देवरी में हुए अंधे कत्ल का हुआ खुलासा, हत्या के आरोप में सास, ससुर, ननंद, देवर गिरफ्तार

745

खरसिया। थाना भूपदेवपुर में 5 दिसम्बर को ग्राम कोटवार द्वारा फोन से सूचना मिली थी कि ग्राम देवरी के तालाब किनारे नाली में झाड़ियों के पास एक महिला की लाश पड़ी है। सूचना मिलते ही तत्काल घटना स्थल पहुंचकर तस्दीक किया गया। जहां मृतिका की पहचान गंगोत्री बाई बघेल पति मनोहर बघेल, उम्र – 26 वर्ष के रूप में हुई। नाली में झाड़ियों के किनारे संदिग्ध परिस्थितियों में महिला की लाश मिलने पर, मौका मुआयना जांचकर, शव को पोस्टर्माटम हेतु भेजा गया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद पता चला कि महिला की मृत्यु सिर व शरीर में गंभीर चोंट लगने से हुई है।

मामले की गंभीरता को देखते हुए जिला पुलिस अधीक्षक रायगढ़ एवं अति. पुलिस अधीक्षक रायगढ़ के मार्गदर्शन तथा पुलिस अनुविभागीय अधिकारी पीताम्बर सिंह पटेल के दिशा निर्देशन पर विभिन्न अलग – अलग पहलुओं पर जांच की गई। जहां मृतिका से जुड़े उसके ससुराल व मायके पक्ष के लोगों से बयान लिया गया।

जहां मामले का खुलासा करते हुए आज दिनांक 10 दिसम्बर को थाना खरसिया में पुलिस अनुविभागीय अधिकारी पीताम्बर सिंह पटेल ने प्रेस वार्ता में बताया कि 05 दिसम्बर को सूचना मिली कि ग्राम देवरी में तालाब किनारे नाले में एक महिला की अर्धनग्न लाश पड़ी हुई है। घटना की गंभीरता को देखते हुए, मौके पर तत्काल पुलिस अधीक्षक रायगढ़, अति. पुलिस अधीक्षक रायगढ़, एसडीओपी, थाना प्रभारी मौके पर पहुंचकर, घटना के सभी पहलुओं की बारीकी से जांच कर रही थी, जहां सम्पूर्ण जांच करने के पश्चात पता चला कि महिला की हत्या में उसके सुसराल के ससुर, सास, देवर, ननंद के द्वारा मारपीट की गई, जिससे उसकी सिर व शरीर में गंभीर चोंट लगने से मौत हो गई। वही यह भी पता चला कि मृतिका का पति सौतेला बेटा था, जिसको घर वाले हिस्सा देना नही चाहते थे, जिस कारण आये दिन, पारिवारिक झगड़े होते रहता था। पुलिस को गुमराह करने के लिए हत्या कर, लाश को तालाब किनारे नाली में फेंक दिया गया। पुलिस की संपूर्ण विवेचना के पश्चात, हत्या के 5 आरोपियों पति मनोहर, सास तिहारीन, देवर सुनील, ननंद कौशल्य एवं ससुर हीरालाल को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड में भेजा गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here