धान खरीदी की लिमिट खत्म करने की मांग, किसानों का प्रदर्शन

314

कांकेर/भानुप्रतापपुर। धान खरीदी में प्रतिदिन लिमिट व्यवस्था के विरोध में पूरे जिले के किसान सामने आने लगे हैं। सोमवार को जिले में जगह जगह किसानों ने धरना प्रदर्शन तथा भूख हड़ताल शुरू कर दी। भानुप्रतापपुर के संबलपुर में किसानों की बैठक में गुरुवार को 5 अलग अलग स्थानों पर चक्काजाम करने का ऐलान किया गया। दुधावा क्षेत्र के खरीदी केंद्रों में किसानों ने खरीदी का बहिष्कार कर दिया जबकि सरोना खरीदी केंद्र का निरीक्षण करने पहुंची महिला फूड इंस्पेक्टर का किसानों ने घेराव कर लिया था। इधर विधायक शिशुपाल शोरी ने किसानों के आंदोलन को भाजपा का षड्यंत्र बताया है।

सरकारी धान खरीदी में लिमिट व्यवस्था के विरोध में संबलपुर में 13 दिसंबर को किसानों ने 5 घंटे चक्काजाम किया था। इसके बाद से किसान धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। सोमवार को धरना के साथ 4 किसान हरेश चक्रधारी, कुलेश कोमरा, कनेसिंह नरेटी, मंगलसिंह नरेटी ने भूख हड़ताल शुरू कर दी। दुर्गूकोंदल-भानुप्रतापपुर के किसानों ने संयुक्त रूप से बैठक कर निर्णय लिया कि धान खरीदी में लिमिट व्यवस्था बंद नहीं की गई तो 19 दिसंबर को पांच स्थानों संबलपुर, दुर्गूकोंदल, केंवटी, कच्चे, कोरर में एक साथ दोपहर 12 से अनिश्चितकालीन चक्काजाम किया जाएगा। आंदोलन में सभी किसान परिवार से एक सदस्य का पहुंचना अनिवार्य किया गया है।

किसान नेता मानक दरपट्टी, शेखर यदू, रत्तीराम करंगा ने कहा सरकार लिमिट खरीदी व्यवस्था कर किसानों को परेशान कर रही है। एसडीएम प्रेमलता मंडावी ने धरनास्थल पहुंच समझाइश दी लेकिन किसान अड़े रहे। कच्चे खरीदी केंद्र में भी नाराज किसानों ने दो घंटे प्रदर्शन किया। इसके बाद संबलपुर में किसानों की बैठक में शामिल हुए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here