लगातार छठे दिन भी दिल्ली की हवा खराब, रविवार तक राहत की संभावना

213

नई दिल्ली। आज लगातार छठे दिन भी दिल्ली की हवा खराब बनी हुई है। कई जगहों पर एयर क्वालिटी इंडेक्स 600 तक पहुंच गया है। लोधी रोड में एक्यूआई 599 है, पूसा रोड में 488 है। दिल्ली के साथ साथ नोएडा में भी हवा बेहद खराब है। नोएडा का एक्यूआई 500 है। ये छठा दिन है जब हवा की क्वालिटी खराब बनी हुई है। हालांकि रविवार तक वायु गुणवत्ता में सुधार होने की संभावना है। 201 और 300 के बीच एक्यूआई को खराब और 301-400 के बीच एक्यूआई बेहद खराब तथा 401-500 के बीच एक्यूआई गंभीर माना जाता है।पराली जलाने और वाहनों के उत्सर्जन से निकलने वाले प्रदूषक कण जैसे कि सल्फर डाईऑक्साइड और नाइट्रोजन डाईऑक्साइड सूर्य की रोशनी और नमी की मौजूदगी में जटिल वातावरण में प्राथमिक कणों के बीच प्रतिक्रिया से द्वितियक कण जैसे सल्फेट, नाइट्रेट, ओजोन और ऑर्गेनिक एरोसोल्स का निर्माण करते हैं।

विशेषज्ञों का कहना है कि पश्चिमी विक्षोभ और हवा की मंद गति के कारण प्रदूषण कणों का घेराव जस का तस बना रहता है। सफर ने कहा कि 14 नवंबर को पराली जलाने की केवल दो घटनाओं का पता चला, लेकिन यह संख्या अधिक हो सकती है क्योंकि संभव है कि बादल छाये रहने के कारण उपग्रह पराली जलाने की घटना का ठीक से पता नहीं लगा पाये होंगे।

इसने बताया कि पराली जलाने से दिल्ली में प्रदूषण में सिर्फ 10 प्रतिशत इजाफा होने की संभावना है। सफर के परियोजना निदेशक गुफरान बेग ने कहा कि हालांकि 16 नवंबर तक पराली जलाने की घटना में कमी आने की संभावना है लेकिन छिटपुट बारिश के कारण उच्च नमी से स्थिति और बिगड़ सकती है।

सफर ने कहा, ‘‘छिटपुट बारिश से प्रदूषण से निजात मिलने की संभावना कम है और इसलिए हवा की गुणवत्ता में 17 नवंबर तक सुधार होने की उम्मीद है।’’ दिल्ली सरकार ने हालांकि शुक्रवार को कहा कि सम-विषम योजना की अवधि को बढ़ाने पर सोमवार सुबह फैसला लिया जायेगा क्योंकि अगले दो-तीन दिनों में हवा की गुणवत्ता में सुधार होने की उम्मीद है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here