दिल्ली हिंसा : युवक की बेरहमी से हत्या के मामले में आरोपित गिरफ्तार

221

नई दिल्ली। उत्तर-पूर्वी दिल्ली के शिव विहार इलाके में हुई हिंसा के दौरान युवक की बेरहमी से हत्या करने के आरोप में क्राइम ब्रांच की एसआईटी-2 ने एक उपद्रवी को गिरफ्तार किया है। आरोपित की पहचान शाहनवाज उर्फ शानू (27) के रूप में हुई है। शाहनवाज ने 24 फरवरी को हिंसा के दौरान बुक स्टोर और मिठाई की दुकान के अलावा कई दुकानों में आग लगा दी थी। आरोपित ने भीड़ के साथ मिठाई की दुकान में आग लगाने से पूर्व वहां वेटर का काम करने वाले दिलबार नेगी (22) को जमकर यातनाएं दी थी। हत्या करने से पूर्व उसके दोनों हाथ काटने के अलावा उसे जिंदा जला दिया गया था। चश्मीदीद के खुलासे के बाद आरोपित की पहचान कर उसे गिरफ्तार किया गया है। पुलिस आरोपित से पूछताछ कर उसके बाकी साथियों की तलाश करने का प्रयास कर रही है।

क्राइम ब्रांच के डीसीपी राजेश देव ने बताया कि हिंसा के बाद 26 फरवरी को पुलिस ने ए-29 चमन पार्क, शिव विहार में मिठाई की दुकान में दूसरी मंजिल से युवक का शव बरामद किया था। बाद में युवक की पहचान दिलबर नेगी के रूप में हुई। उसकी बहुत ही बेरहमी से हत्या की गई थी। 28 फरवरी को गोकुलपुरी थाने में इस संबंध में हत्या के अलावा दंगा, आगजनी और सबूत मिटाने समेत अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया गया था। मामले की छानबीन अपराध शाखा की एसआईटी ने शुरू की तो पुलिस को हिंसा का एक चश्मदीद मिल गया। चश्मदीद ने बताया कि 24 फरवरी को शिव विहार तिराहे के पास आरोपी शाहनवाज उर्फ शानू भीड़ का नेतृत्व कर रहा था।

वह और उसके साथ मौजूद लोगों ने पथराव करने के अलावा दुकानों में तोडफ़ोड़ और वहां तलाशी लेने के साथ लूटपाट की। इसी क्रम में आरोपी ने वहां मौजूद किताबों की दुकान व अनिल स्वीट हाउस में हिंसा शुरू कर दी। इसी दौरान आरोपी यहां अंदर घुसे और आगजनी शुरू कर दी। हिंसा के दौरान ही आरोपियों ने दूसरी मंजिल पर जाकर दिलबर नेगी की बहुत ही बेरहमी पिटाई की। उसके हाथ काटने के बाद उसे जिंदा जला दिया गया। चश्मदीद से मिली जानकारी के बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। अब पुलिस शाहनवाज को रिमांड पर लेकर उससे बाकी उपद्रवियों की पहचान करने का प्रयास कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here