23 दिसम्बर सुबह 8 बजे से मतगणना

174

-मतगणना में सबसे पहले पोस्‍टल बैलेट की गिनती

-हर राउंड की रिपोर्ट फाइनल के बाद अगले राउंड की गिनती

-चंदनकियारी और तोरपा के नतीजे सबसे पहले आने की उम्मीद

रांची। झारखंड विधानसभा चुनाव की मतगणना 23 दिसंबर की सुबह 8 बजे से शुरू होगी। एक घंटे बाद मतगणना का पहला रूझान सुबह नौ बजे से मिलने लगेगा। सभी राउंड में प्रत्याशियों को मिले मतों की घोषणा लाउडस्पीकर द्वारा की जाएगी। तोरपा और चंदनकियारी में सबसे कम 13.13 राउंड की गिनती होगी और चतरा में सबसे अधिक 28 राउंड में। इसलिए सबसे पहले तोरपा और चंदनकियारी का परिणाम आने की उम्मीद है तथा सबसे बाद में चतरा की।

चुनाव आयोग के अनुसार, राज्य के सभी जिला मुख्यालयों पर मतगणना होगी। सबसे पहले पोस्टल बैलेट की गिनती होगी। इसपर क्यूआर कोड होता है, जिसका मिलान करते हुए पहले स्कैन किया जाएगा। फिर गिनती शुरू होगी। इसके बाद ईवीएम के मतों की गिनती शुरू होगी। मतगणना के दिन जिलों में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी रहेगी। दंडाधिकारी के साथ पुलिस बल की तैनाती रखी जाएगी। मतगणना हॉल में राजनीतिक दलों के एजेंट जिला प्रशासन द्वारा आवंटित पास से ही प्रवेश कर सकते हैं। काउंटिंग एजेंट को बिना पास के अंदर प्रवेश नहीं कर सकते हैं। मतगणना हॉल में प्रवेश करने से पूर्व मेटल डिटेक्टर से जांच की जाएगी। इसके पश्चात हॉल में राजनीतिक दल मतगणना एजेंट प्रवेश कर सकते हैं। सिर्फ पर्यवेक्षक ही अपना मोबाइल फोन ले जा सकेंगे जबकि बाकी कोई पदाधिकारी, मतगणना कर्मी या मतगणना एजेंट मोबाइल फोन नहीं ले जा सकते। इसके अलावा नशे की सामग्री सहित अन्य आपत्तिजनक समान अंदर ले जाने पर पूरी तरह से पाबंदी है।

हर राउंड की रिपोर्ट फाइनल होने के बाद दूसरे राउंड की गिनती शुरू होगी। हर काउंटिंग टेबल पर काउंटिंग असिस्टेंट, काउंटिंग सुपरवाइजर और काउंटिंग माइक्रो ऑब्जर्वर मौजूद रहेंगे। विभिन्न पार्टियों के एजेंट भी काउंटिंग और रिटर्निंग ऑफिसर के टेबल पर रहेंगे। पोस्टल बैलेट की गिनती के समय एक काउंटिंग असिस्टेंट बढ़ जाएगा।

वीवीपैट से मिलान के बाद अंतिम नतीजे

वीवीपैट से मिलान के बाद ही अंतिम नतीजे जारी होंगे। अंतिम राउंड की गिनती के बाद संबंधित विधानसभा क्षेत्रों के 5.5 बूथों की रेंडमली जांच की जाएगी। सही निष्कर्ष आने के बाद फाइनल रिजल्ट जारी किया जाएगा।

पांच चरणों का मतदान

पांच चरणों के चुनाव में पहले चरण के लिए 30 नवंबर को वोट डाले गये, जिसमें 13 सीटों पर 64.12 प्रतिशत वोटिंग हुई। दूसरे चरण में 7 दिसंबर को 19 सीटों पर मतदान हुआ और 65.85 फीसदी वोटिंग रिकॉर्ड की गई। तीसरे चरण में 12 दिसंबर को 17 सीटों पर 62.58 प्रतिशत मतदान हुआ। वहीं चौथे चरण में 16 दिसंबर को 15 सीटों पर 63.55 फीसदी और पांचवें व अंतिम चरण में शुक्रवार को 16 सीटों पर 70.83 प्रतिशत मतदान हुआ। इसके साथ ही सभी 81 सीटों पर पांच चरणों में मतदान की प्रक्रिया पूरी हो गई। अब सबकी नजरें 23 दिसबंर को होने वाली मतगणना पर टिकी हैं। कुल मिलाकर झारखंड में विधानसभा चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न हुआ। करीब डेढ़ महीने चले चुनाव में कहीं कोई अप्रिय घटना नहीं घटी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here