राकेश अस्थाना को क्लीन चिट, जज ने कहा- पर्याप्त सूबत नहीं

213

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की विशेष अदालत ने 7 जनवरी शनिवार को रिश्वत कांड में सीबीआई के पूर्व स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना और डीएसपी देवेंद्र कुमार को क्लीन चिट दे दिया. विशेष जज संजीव अग्रवाल ने कहा कि अस्थाना और कुमार के खिलाफ आगे की कार्रवाई के लिए पर्याप्त सबूत नहीं हैं. अगर भविष्य में जांच में नए तथ्य सामने आते हैं तो उस पर गौर किया जाएगा.

सीबीआई ने दायर की थी चार्जशीट

इस मामले में सीबीआई की ओर से चार्जशीट दायर की गई थी. जांच एजेंसी ने चार्जशीट में अस्थाना और अन्य आरोपियों के खिलाफ भ्रष्टाचार के सबूत नहीं होने की बात कही थी. विशेष अदालत के द्वारा क्लिन चिट को स्वीकार करने से राकेश अस्थाना को बड़ी राहत मिली है. अस्थाना ने पहले दिन से दावा किया है कि आलोक वर्मा के इशारे पर उनके खिलाफ मनगढ़ंत एफआईआर दर्ज की गई थी.

मनोज प्रसाद-सोमेश प्रसाद हुए तलब

कोर्ट ने धोखाधड़ी, आपराधिक षड्यंत्र और पीसी एक्ट की धारा 8 के तहत मनोज प्रसाद और सोमेश प्रसाद के खिलाफ आरोपों का संज्ञान लिया है, जिन्हें आरोपी के रूप में नामित नहीं किया गया था, उन्हें भी मामले में बतौर आरोपी तलब किया गया है. सीबीआई ने हैदराबाद के कारोबारी सतीश सना की शिकायत के आधार पर अस्थाना के खिलाफ मामला दर्ज किया था. सना 2017 के उस मामले में जांच का सामना कर रहा है जिसमें मांस व्यापारी मोइन कुरैशी की भी संलिप्तता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here