CAB: असम आने-जाने वाली सभी यात्री ट्रेनें निलंबित, कई कंपनियों ने रद्द कीं फ्लाइट्स

339

नई दिल्ली।  नागरिकता संशोधन विधेयक के खिलाफ असम और त्रिपुरा में हो रहे हिंसक विरोध-प्रदर्शनों के चलते जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। इन सूबों में हो रहे विरोध के चलते आम लोगों को कई तरह की दिक्कतें पेश आ रही हैं। वहीं, बवाल को देखते हुए रेलवे ने असम और त्रिपुरा आने-जाने वाली सभी यात्री ट्रेनों को निलंबित कर दिया गया है। रेलवे के एक प्रवक्ता द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, लंबी दूरी वाली ट्रेनों को गुवाहाटी में ही रोका जा रहा है। वहीं, कई विमानन कंपनियों ने असम के विभिन्न शहरों के लिए अपनी उड़ानों को भी रद्द कर दिया है।

पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे के प्रवक्ता सुभानन चंदा ने बताया कि सुरक्षा स्थिति को देखते हुए यह फैसला बुधवार रात में लिया गया। प्रवक्ता ने बताया कि इस फैसले के बाद कई यात्री कामाख्या और गुवाहाटी में फंस गए। चंदा ने बताया, ‘यात्री फंसे हुए हैं और हम उनकी हर संभव मदद करने की कोशिश कर रहे हैं। हम इन यात्रियों के लिए विशेष ट्रेनें चलाने पर विचार कर रहे हैं लेकिन अभी इसका आकलन कर रहे हैं कि क्या खतरा उठाना उचित है।’वहीं, दिल्ली में अधिकारियों ने बताया कि तिनसुकिया, लुम्बडिंग और रंगिया खंड में ट्रेनें रद्द कर दी गई है और कोई भी ट्रेन गुवाहाटी से आगे नहीं जा रही है।

इसके अलावा असम में व्यापक विरोध प्रदर्शन के कारण विभिन्न विमानन कंपनियों ने राज्य के कई शहरों की उड़ानें गुरुवार को रद्द कर दी। उड़ानें रद्द करने वाली विमानन कंपनियों में इंडिगो, विस्तार, एयर इंडिया, स्पाइसजेट और गोएयर शामिल हैं। इंडिगो के एक प्रवक्ता ने बयान में कहा कि असम में अस्थिरता की स्थिति को देखते हुए गुरुवार को गुवाहाटी तथा डिब्रुगढ़ की उड़ानें रद्द की गई हैं। कंपनी ने गुवाहाटी, डिब्रुगढ़ और जोरहाट की उड़ानों के यात्रियों के लिए 13 दिसंबर तक टिकट रद्द करने या यात्रा की तिथि बदलने के लिए शुल्क समाप्त कर दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here