नस्लभेदी टिप्पणी करने वाले रेफरी के खिलाफ कार्रवाई होगी

277

अखिल भारतीय फुटबाल महासंघ (AIFF) ने कहा है कि इंडियन सुपर लीग (ISL) में नस्लभेदी टिप्पणी करने वाला रेफरी अगर दोषी पाया जाता है तो उसके खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी. मुंबई सिटी एफसी के मुख्य कोच जार्ज कोस्टा ने आरोप लगाया है कि बेंगलुरु एफसी के खिलाफ रविवार को खेले गए मैच में सऊदी अरब के रेफरी तुर्की अल खुदायर ने उनके एक खिलाड़ी अफ्रीकी देश गेबन के सेर्जे केवीन को बंदर कहा था. मुम्बई सिटी ने इस मैच में मौजूदा चैम्पियन बेंगलुरू एफसी को 3-2 से हराकर उसे सीजन की पहली हार थमाई थी.

एआईएफएफ ने एक बयान में कहा, मुंबई सिटी एफसी की ओर से हमें एक शिकायत मिली है, जिसमें उन्होंने कहा है कि बेंगलुरु एफसी के खिलाफ रविवार को खेले गए मैच में सऊदी अरब के तुर्की अल खुदायर ने उनके एक खिलाड़ी सेर्जे केवीन को बंदर कहा था. एआईएफएफ ने कहा, नस्लभेदी टिप्पणियों को लेकर एआईएफएफ जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाता है और इस मामले की शिकायत को एआईएफएफ की अनुशासन समिति निपटती के पास भेज दिया गया है. मुम्बई सिटी के कोच कोस्टा ने मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा था, मैं सम्मान की बात कर रहा हूं जो उसने (मैच अधिकारी) आज एक खिलाड़ी- सर्ज केविन के साथ मैच के दौरान नहीं दिखाया. इस रैफरी ने कुछ इशारे किए, उसे बंदर कहा. इस तरह की चीजें हुई कि मैं अपनी आंखें बंद नहीं कर सकता.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here