गोलीकांड पर CM Nitish के बदले बयान,कहा-जहां गोली चला, इलकवा कौन था?

79

Begusarai गोलीकांड मामले में 30 घंटे बाद भी Police 10 लोगों को गोली मारने वाले बदमाशों को पकड़ नहीं पाई है. वहीं चौतरफा फजीहत झेल रही नीतीश सरकार हर दिन नए बहाने तलाश रही है। मुख्यमंत्री ने बेगूसराय की घटना को लेकर बुधवार को जो बयान दिया था उसे देखकर ऐसा लग रहा था कि कहीं ना कहीं फायरिंग की घटना को जातीय रंग देने की कोशिश कर रहे हैं।

लेकिन अब जबकि फायरिंग की घटना में घायल लोगों की जातिवार लिस्ट सामने आ गई है वैसी स्थिति में नीतीश अपने बयान से भागने लगे हैं। नीतीश कुमार से जब यह पूछा गया कि बीजेपी उन पर जातीय उन्माद फैलाने का आरोप लगा रही है तो मुख्यमंत्री ने कहा कि किस इलकवा में घटना हुआ था ई तो देख लीजिए?

गौरतलब है कि बेगूसराय फायरिंग मामले पर बीजेपी ने सरकार पर जमकर हमला बोला। विपक्ष के हमलावर होने के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस मामले पर बयान देते हुए कहा था कि यह घटना किसी की साजिश है और जानबूझकर ऐसा किया गया है।

गौरतलब है कि बीते मंगलवार को बेगूसराय के विभिन्न थाना क्षेत्रों में बाइक सवार दो बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग की थी। इस घटना में 10 लोगों को गोली लगी थी और एक व्यक्ति की मौत हो गयी थी। 31 साल के चंदन की मौत के बाद परिजनों के बीच कोहराम मच गया। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी फरार है। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। हर चौक चौराहे पर चलाए जा रहे वाहन जांच अभियान में और तेजी लाई गयी है।

बेगूसराय गोलीकांड मामले को लेकर बीजेपी लगातार हमलावर है। बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने यहां तक कह दिया कि बिहार में जंगल राज नहीं नीतीश कुमार का गुंडा राज है। जहां हर गुंडा राजा बन गया है। वहीं सुशील मोदी ने कहा कि अपराधियों को लग रहा है कि जैसे हमारी सरकार है। विजय सिन्हा ने कहा कि क्या यही जनता का राज है।

इसी तरह गिरिराज सिंह, नित्यानंद राय, तारकिशोर प्रसाद, सम्राट चौधरी सहित कई बीजेपी नेताओं ने नीतीश सरकार पर जमकर हमला बोला। बीजेपी के हमले के बाद नीतीश कुमार को सामने आना पड़ा। बीजेपी पर पलटवार करते हुए नीतीश ने बेगूसराय की घटना को साजिश बताया। कहा कि बेगूसराय में किसी ने साजिश की है और जानबूझकर किसी ने ऐसा काम किया है। अतिपिछड़ी जाति के लोगों को निशाना बनाया गया। हमने अधिकारियों को कह दिया है कि एक-एक चीज पर नजर रखें।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बेगूसराय गोलीकांड वाले बयान को लेकर विपक्षी दल बीजेपी हमलावर हो गई है। सीएम नीतीश ने बेगूसराय गोलीकांड की घटना को साजिश करार दिया था और कहा था कि एक खास जाति के लोगों को टारगेट किया गया है। इस दौरान मुख्यमंत्री मुस्कुराते नजर आए थे। बीजेपी ने मुख्यमंत्री के उस बयान काफी शर्मनाक बताया है और कहा है कि गोलीकांड की घटना को जाति के आईने से देखना कही से भी उचित नहीं है। मुख्यमंत्री के मुस्कुराहत से साफ हो गया है कि उन्हें बिहार की जनता की कोई चिंता नहीं हैं। उन्होंने कहा कि छोटे अधिकारियों पर कार्रवाई कर सिर्फ खानापूर्ति की जा रही है, इसके लिए खुद नीतीश कुमार सीधे तौर पर जिम्मेवार हैं।

बिहार सरकार के पूर्व मंत्री आर बीजेपी विधायक नितिन नवीन ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि गोलीकांड की घटना पर मुख्यमंत्री का बयान बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है। राज्य के मुख्यमंत्री गोलीकांड की घटना को जाति के आईने से देख रहे हैं। गोलीकांड पर मुख्यमंत्री का बयान पिछले 16-17 सालों में सबसे शर्मनाक बयान है।

बता दें कि इस घटना के बाद BSAP की 3 कंपनिया और STF की 1 यूनिट को तैनात किया गया। वही मामले में एसपी योगेंद्र कुमार ने मोबाइल टीम के 7 प्रभारी को सस्पेंड कर दिया। इसके साथ ही पुलिस ने पूछताछ के लिए 5 लोगों को हिरासत में लिया। बेगूसराय फायरिंग मामले में अब 4 संदिग्धों की तस्वीर सामने आई है। हर चौक चौराहे पर वाहन जांच अभियान जारी है। गश्ती में कमी पाए जाने पर एसपी ने कार्रवाई की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here