मसूरी घूमने जा रहे हैं तो आस पास की इन जगहों को घूमना न भूले

25

उत्तराखंड में स्थित मसूरी हिल स्टेशन बेहद खूबसूरत है। यहां देश ही नहीं बल्कि विदेशों से भी सैलानी आते हैं। मसूरी की सुंदरता सैलानियों को मंत्रमुग्ध कर देती है। प्रकृति की गोद में बसा हुआ यह हिल स्टेशन सैलानियों के बीच सबसे ज्यादा लोकप्रिय है। दिल्ली से करीब होने की वजह से यहां दिल्ली-एनसीआर से बड़ी तादाद में टूरिस्ट आते हैं और मसूरी के मौसम और मिजाज का लुत्फ उठाते हैं। अगर आप भी मसूरी जा रहे हैं,तो सिर्फ मसूरी ही मत घूमिये बल्कि उसके आसपास की जगहों को एक्सप्लोर करिये। मसूरी देहरादून से करीब 35 किलोमीटर और दिल्ली से 274 किमी की दूरी पर स्थित है।

लंढौर
लंढौर मसूरी के पास ही एक छोटा-सा हिल स्टेशन है। यह हिल स्टेशन देवदार और चीड़ के घने जंगलों के बीच बसा हुआ है। प्रकृति प्रेमियों और नेचर को करीब से देखने के इच्छुक सैलानियों के लिए यह जगह घूमने के लिए एकदम परफेक्ट है। यहां का मौसम हर वक्त बेहद सुहाना रहता है और सैलानियों के घूमने के लिए आसपास कई जगहें हैं। यहां से सैलानी हिमालय की ऊंची-ऊंची पहाड़ियों को निहार सकते हैं।

लाल टिब्बा और क्लॉक टावर

सैलानी लंढौर में लाल टिब्बा घूम सकते हैं। यह यहां का प्रसिद्ध पर्यटक स्थल है जो समुद्र तल से 8 हजार मीटर की ऊंचाई पर बसा हुआ है। लाल टिब्बा से आप आसपास की पहाड़ियों की खूबसूरती को निहार सकते हैं। सूर्योदय और सूर्यास्त के समय का नजारा यहां से देखने लायक होता है। यह मसूरी और लंढौर का सबसे ऊंचा शिखर है। जहां से पर्यटक हिमालय, बद्रीनाथ, केदारनाथ, नीलकंठ, श्री हेमकुंड साहिब, यमुनोत्री और गंगोत्री के पहाड़ों के अद्भुत नजारों को देख सकता है। मसूरी से लाल टिब्बा की दूरी करीब 8 किलोमीटर है।

जबरखेत नेचर रिजर्व और सैंजी गांव

जबरखेत नेचर रिजर्व मसूरी से करीब 8 किलोमीटर दूर है। यहां आपको जरूर घूमना चाहिए। अगर आप प्रकृति की असली खूबसूरती देखना चाहते हैं, तो यह जगह आपके लिए परफेकट है। यहां से सैलानी बर्फ से ढंके पर्वत देख सकते हैं। इसी तरह से मसूरी के पास ही सैंजी गांव है, जहां सैलानी जा सकते हैं। सैंजी गांव में आप ट्रैकिंग और लॉन्ग नेचर वॉक कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here