लाल किला कड़ी सुरक्षा में, 7000 मेहमान आमंत्रित, 10 हजार पुलिसकर्मी रहेंगे तैनात

31

लाल किले पर स्वतंत्रता दिवस को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। लाल किले से सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्र को संबोधित करेंगे। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि लाल किले में प्रवेश वाले स्थान से लेकर अंदर तक कई स्तर पर सुरक्षा के बंदोबस्त किए गए हैं। इसमें चेहरे की पहचान के लिए विशेष फेस रिकग्निशन कैमरे (एफआरएस) कैमरे लगाए हैं। इस दौरान 10,000 से अधिक पुलिस कर्मियों को तैनात किया जाएगा। समारोह में 7,000 मेहमानों को आमंत्रित किया गया है। तिरंगा फहराए जाने तक लाल किले के आसपास के पांच किलोमीटर के क्षेत्र को नो काइट फ्लाइंग जोन के रूप में चिह्नित किया है। रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन और अन्य सुरक्षा एजेंसियों के ड्रोन रोधी सिस्टम भी लगाए जा रहे हैं। अधिकारियों ने बताया कि लाल किले पर और उसके आसपास हाई रेज्यूलेशन के सुरक्षा कैमरे लगाए हैं।पुलिस आयुक्त (कानून व्यवस्था) दीपेंद्र पाठक ने कहा कि दिल्ली में धारा 144 के प्रावधान पहले ही लागू कर दिए हैं। इलाके को नो काइट फ्लाइंग जोन घोषित किया गया है। 13 अगस्त से 15 अगस्त को कार्यक्रम के अंत तक लाल किले पर पतंग, ड्रोन, गुब्बारे, चीनी लालटेन और ड्रोन की अनुमति नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here