Venkaiah Naidu Farewell: ‘जैसे पहला प्यार याद रहता है वैसे ही…’ राज्यसभा में बोले राघव चड्ढा तो वेंकैया नायडू ने हंस कर यूं दिया जवाब

41

Parliament Monsoon Session 2022: सोमवार को राज्यसभा के सभापति के तौर पर उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू (M Venkaiah Naidu) का आखिरी दिन था. आम आदमी पार्टी के सासंद राघव चड्ढा (Raghav Chadha) ने उनके विदाई भाषण में नायडू को अपना पहला चेयरमैन बताते हुए कहा कि जैसे पहला प्यार याद रहता है वैसे ही पहले चेयरमैन के तौर पर आप मुझे याद रहेंगे. इस पर उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने हल्के अंदाज में सांसद से पूछा, राघव! मेरे ख्याल से प्यार पहली बार ही होता है न? दूसरी या तीसरी बार तो नहीं होता न.

इस पर सांसद ने अपनी जगह पर खड़े होकर कहा कि सर, मैं अभी इतना अनुभवी नहीं हूं सर, अभी जीवन में इतने अनुभव नहीं हुए हैं लेकिन अच्छा होता है सर. तब उपराष्ट्रपति ने मुस्कुराते हुए फिर कहा कि हां ! पहला प्यार अच्छा होता है, वही प्यार हमेशा रहना है, जिंदगी भर.

11 अगस्त को शपथ लेंगे जगदीप धनखड़
वेंकैया नायडू बुधवार को पद छोड़ देंगे और उनके उत्तराधिकारी जगदीप धनखड़ 11 अगस्त को पद और गोपनीयता की शपथ लेंगे. सूत्रों ने बताया कि मुहर्रम और रक्षा बंधन के कारण मंगलवार और गुरूवार को सदन की बैठक नहीं होगी. उन्होंने कहा कि सदन के सभी सदस्यों की ओर से सोमवार शाम को जीएमसी बालयोगी सभागार में नायडू के लिए एक और विदाई समारोह आयोजित किया जाएगा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) नायडू (M Venkaiah Naidu) को एक स्मृति चिन्ह प्रदान करेंगे जबकि राज्यसभा (Rajya Sabha) के उपसभापति विदाई भाषण करेंगे. उपराष्ट्रपति और राज्यसभा के सभापति के रूप में नायडू के कार्यकाल से संबंधित एक प्रकाशन का प्रधानमंत्री विमोचन करेंगे और इसके बाद रात्रि भोज का आयोजन होगा. इससे पहले धनखड़ (Jagdeep Dhankhar) और उनकी पत्नी सुदेश का उपराष्ट्रपति निवास में नायडू और उनकी पत्नी उषा नायडू ने स्वागत किया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here