महाराष्ट्र : हमें हर जगह दुत्कार दिया जाता है, मुस्लिम शहरों के नाम बदलकर क्या होगा?’ जानें सदन में और क्या बोले सपा नेता अबू आजमी

67

Maharashtra: समाजवादी पार्टी SP) की महाराष्ट्र इकाई के अध्यक्ष अबू आसिम आजमी ने सदन में उद्धव ठाकरे पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि हम तटस्थ रहे, हमें इसका दुख है। लेकिन हम क्या करें, हम कहीं भी जाते हैं तो हमें दुत्कार दिया जाता है। हमारे सीएम ठाकरे ने जाते-जाते औरंगाबाद का नाम बदल दिया। अगर नाम बदलकर महाराष्ट्र का विकास होता है तो ठीक है, आप नाम बदल दो। अबू आजमी ने कहा कि मुस्लिम शहरों के नाम बदलकर क्या होगा? आप लोग इस देश को तबाही की कगार पर खड़ा कर देना चाहते हैं। आजमी ने ये भी कहा कि मैं जैसे ही बोलने लगता हूं, वैसे ही आप चिल्लाने लगते हैं। आज मुझे बोलने दो।

अबू आजमी के बयान पर भास्कर जाधव ने दिया जवाब
अबू आजमी के बयान पर सदन में शिवसेना के विधायक भास्कर जाधव ने जवाब दिया। जाधव ने कहा कि अबू आजमी ने मुस्लिम शहरों के नाम बदलने का मुद्दा उठाया। मैं उनसे कहना चाहता हूं कि औरंगजेब आतंकी था। उसने अत्याचार किया, इसलिए हमने संभाजी महाराज का नाम दिया। आप आजमी) इसे हिंदू मुस्लिम का मुद्दा मत बनाओ।

सदन में अजित पवार ने कहा- शिंदे ने मुझसे सीएम बनने की बात की होती तो समस्या नहीं होती
सदन में एनसीपी नेता अजित पवार ने कहा कि अगर एकनाथ शिंदे ने मुझसे बात की होती तो मैं खुद उद्धव ठाकरे से बात करता और वो सीएम बन जाते। इसमें कोई समस्या नहीं होती। जब फडणवीस ने एकनाथ शिंदे का नाम सीएम के तौर पर लिया तब पिन ड्रॉप सायलेंस हो गया था। बीजेपी के विधायक रोने लगे थे। 39 लोग वहां चले गए हैं। कितने मंत्री बनेंगे, ये कहना मुश्किल है। पवार ने आदित्य ठाकरे से पूछते हुए कहा कि तुम्हें तो इससे कोई समस्या नहीं होती ना?

दीपक केसरकर बोले- हमारे पास भी दो तिहाई संख्या बल है
बागी गुट के नेता दीपक केसरकर ने कहा कि आज यहां पर व्हिप का जिक्र किया गया। मैं कहना चाहता हूं कि हमारी पार्टी ने भी व्हिप निकाला है। हमारे पास भी दो तिहाई संख्या बल है। हम भी डिसक्वालिफिकेशन की बात कर सकते थे। लेकिन हम ये बात आज नहीं करेंगे क्योंकि आज स्पीकर का मुद्दा है। सिर्फ स्पीकर के विषय पर ही बात करेंगे।

सदन में आदित्य ठाकरे बोले- ये सब पहले ही हो गया होता अगर…
सदन में आदित्य ठाकरे ने कहा कि फडणवीस के कान में जो हमने कहा था, अगर वो मान लेते तो ढाई साल पहले ही ये सब हो गया था। आज की स्थिति पूरी तरह पलट गई होती।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here