PM किसान सम्मान निधि या पीएम किसान योजना के तहत धोखाधड़ी पर नियंत्रण पाने के लिए, सरकार ने अहम बदलाव

104

Short Description

PM किसान सम्मान निधि या पीएम किसान योजना के तहत धोखाधड़ी पर नियंत्रण पाने के लिए, सरकार ने अहम बदलाव

News Detail

1. केंद्र सकरार की ओर से योजना में हो रहे फर्जीवाड़े को रोकने के लिए पीएम किसान सम्‍मान निधि के तहत राशन कार्ड को अनिवार्य कर दिया गया है।

2. अगर आप इस योजना के पात्र हैं तो आपको रजिस्‍ट्रेशन के साथ ही राशन कार्ड भी देना होगा। वहीं अगर आप इस योजना में पहले से रजिस्‍टर्ड हैं तो आपको pmkisan.gov.in पर राशन कार्ड की कॉपी सबमिट करनी होगी।
3. केंद्र सरकार की ओर से एक और बदलाव किया गया है। अब इन किसानों को खतौती, आधार कार्ड, घोषणा पत्र और बैंक पासबुक की हार्ड कॉपी जमा करने की अनिवार्यता भी खत्‍म कर दी गई है।
4. अब लाभार्थियों की इन दस्‍तावेजों की पीडीएफ फाइल बनाकर पोर्टल पर अपलोड करनी होगी। इससे न सिर्फ किसानों का समय भी बचेगा, बल्कि योजना और पारदर्शी होगी।
KYC भी है अनिवार्य:- ई-केवाईसी कराना भी सरकार ने अनिवार्य कर दिया है. ई-केवाईसी कराने की अंतिम तिथि 31 जलाई 2022 है. पीएम किसान वेबसाइट की मदद से किसान घर बैठे अपने स्‍मार्टफोन से भी ईकेवाईसी कर सकते हैं।
बिना राशन कार्ड के नहीं होगा रजिस्ट्रेशन:- पंजीकरण नहीं हो सकता है. ऐसे में पीएम किसान सम्मान निधि के तहत हर साल 6000 रुपये का लाभ लेने के लिए किसानों के पास राशन कार्ड होना जरूरी हो जाता है. दरअसल, पीएम किसान योजना में हो रहे फ्रॉड को रोकने के लिए सरकार की ओर से यह कदम उठाया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here