तेजस्वी RJD 16 वर्षों ने फोटो शेयर कर कहा-23 राज्यों से अधिक बेरोजगारी बिहार में है/एशियन टाइम्स

132

ASIAN TIMES.बिहार में 23 राज्यों से अधिक बेरोजगारी है। बिहार की बेरोजगारी दर देश की बेरोजगारी दर से कई गुना अधिक है। 16 वर्षों की नीतीश-भाजपा सरकार देश के सबसे युवा प्रदेश बिहार के युवाओं को स्थायी नौकरी देने, रोजगार सृजन करने, उद्योग धंधे लगाने एवं पलायन रोकने में पूर्णतः विफल रही है।

छठ के अवसर पर सूर्य की प्रतिमा कई स्थानों पर स्थापित की गई। इस दौरान कई स्थानों पर झांकी भी दिखाई गई। यह झांकी बेरोजगारी को दिखाती हुई है। आरा की ऐसी ही झांकी चर्चा में है। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने झांकी की फोटो को शेयर किया है। RJD ने अपने ऑफिशियल सोशल मीडिया पेज पर भी इसे डाला है।

RJD ने कहा है- ‘बिहार के आरा में एक छठ पूजा ऐसा भी…क्योंकि बिहार को 16 वर्षों में नीतीश सरकार ने बेरोजगारी का केन्द्र बना दिया है। बेरोजगारी का ऐसा दर्द कि अब छात्र-युवा किसी पर्व त्योहार पर मुस्कुराना व खुश रहना भी भूल गया। देश में सबसे अधिक बेरोजगारी बिहार में।’

16 वर्षों की नीतीश भाजपा सरकार नौकरी देने में विफल: तेजस्वी यादव                                                                                                                                                                                                                                                     

ASIAN TIMES: बिहार में छठ पूजा के मौके पर तेजस्वी यादव ने एकबार फिर नीतीश सरकार पर हमला बोला है. बेरोजगारी के मुद्दे को लेकर तेजस्वी लगातार हमलावर हैं. इसबार तेजस्वी ने सीएम पर अलग तरह से निशाना साधा है. एक तस्वीर शेयर करते हुए लिखा है कि बिहार में 23 राज्यों से अधिक बेरोजगारी है। बिहार की बेरोजगारी दर देश की बेरोजगारी दर से कई गुना अधिक है। 16 वर्षों की नीतीश-भाजपा सरकार देश के सबसे युवा प्रदेश बिहार के युवाओं को स्थायी नौकरी देने, रोजगार सृजन करने, उद्योग धंधे लगाने एवं पलायन रोकने में पूर्णतः विफल रही है।

 

इस तस्वीर की खास बात है कि इसमें बेरोजगार युवकों  द्वारा अलग-अलग काम किए जा रहे हैं. मूर्तियों की झांकी की तस्वीर में MBA किया लड़का जूता पॉलिश कर रहा है तो B.TECH पास लगका चाट पकौड़ा बेच रहा. वहीं B.Ed पास कर युवा सब्जी बेचने को मजबूर हैं. मतलब तेजस्वी इस तस्वीर के माध्यम से ये दिखाना चाह रहे हैं कि आज के पढ़े लिखे युवा बेरोजगारी के कारण क्या कर रहे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here