सैनिक स्कूल की तरह अब उत्तर प्रदेश में संचालित होगा पुलिस स्कूल

346

पुलिस में जाने वाले छात्रों के लिए उत्तर प्रदेश में पुलिस स्कूल खोले जाने की तैयारी हो रही है. इसका संचालन सैनिक स्कूल की तरह ही किया जाएगा. सरकार ने इसकी तैयारियां शुरू कर दी हैं. इसमें नए शैक्षणिक सत्र 2020-21 से पढ़ाई शुरू होगी. इस इंटरमीडिएट स्कूल में विद्यार्थियों को पुलिस सेवा के लिए तैयार किया जाएगा. पाठ्यक्रम भी उसी के अनुरूप तैयार किया जाएगा.उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने बताया, ‘इस प्रकार का स्कूल गुजरात में संचालित हो रहा है.

ठीक उसी प्रकार यहां भी खोला जाएगा. इसके माध्यम से कानून व्यवस्था में जो चुनौतियां आने वाले दिनों में बढ़ी हैं, उससे निपटा जाएगा. ऐसे विद्यार्थी जो पुलिस सेवा में अपना करियर बनाना चाहते हैं, वह इस इंटरमीडिएट स्कूल में पढ़ाई कर सकेंगे.’

उन्होंने बताया, ‘पुलिस सेवा में विभिन्न पदों पर जाने के लिए विद्यार्थियों को तैयार किया जाएगा. शारीरिक दक्षता परीक्षा के लिए दौड़, ऊंची कूद इत्यादि की तैयारी करवाई जाएगी. पुलिस सेवा में जाने के लिए किस तरह का व्यवहार होना चाहिए, इसके लिए भी छात्रों को तैयार किया जाएगा.’

स्कूल के निर्माण के लिए चार सदस्यीय कमेटी का भी गठन कर दिया गया है. इसमें पूर्व डीजीपी सुलखान सिंह, पुलिस महानिदेशक भर्ती बोर्ड राजकुमार विश्वकर्मा, लखनऊ मंडल के संयुक्त शिक्षा निदेशक सुरेंद्र कुमार तिवारी और लखनऊ के जिला विद्यालय निरीक्षक मुकेश कुमार सिंह को शामिल किया गया है. स्कूल की स्थापना के संबंध में यह कमेटी एक सप्ताह के भीतर रिपोर्ट देगी. कमेटी की रिपोर्ट के बाद ही स्कूल संचालन की सारी गतिविधियां तय होंगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here