फरीदाबाद:स्वास्थ्य सेवाओं में मील का पत्थर साबित होगा मां अमृता आनंदमयी अस्पताल: मुख्यमंत्री मनोहर लाल

173

फरीदाबाद, 17 अगस्त। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि फरीदाबाद में मां अमृता आनंदमयी द्वारा स्थापित किया गया 2400 बिस्तर का अस्पताल इस क्षेत्र का सबसे बड़ा और अत्याधुनिक सुविधाओं वाला अस्पताल है। यह अस्पताल आने वाले समय में देश की बेहतरीन सेवाओं में मील का पत्थर साबित होगा। इसके लिए मां अमृता आनंदमयी को प्रदेश की जनता की तरफ से साधुवाद है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल बुधवार को अमृता अस्पताल में मां अमृता आनंदमयी से आशीर्वाद लेने के बाद उनसे बातचीत कर रहे थे।

इस दौरान मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि आने वाले समय में अस्पताल में बड़ी संख्या में मरीज व उनके परिजन इलाज के लिए पहुंचेंगे। इससे यहां सार्वजनिक परिवहन सेवाओं की ज्यादा जरूरत पड़ेगी। ऐसे में ग्रेटर फरीदाबाद सहित अमृता अस्पताल के लिए बेहतरीन सार्वजनिक परिवहन सेवाओं को विकसित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह अस्पताल मानवता की दिशा में बड़ा कदम है और उन्हें जिस भी मदद की जरूरत होगी प्रदेश सरकार हमेशा उसके लिए तैयार मिलेगी। उन्होंने कहा कि सिटी बस सर्विस की सेवाओं को भी यहां तक पहले से ही विस्तार दे दिया गया है। इसके अलावा एफएमडीए द्वारा ग्रेटर फरीदाबाद में एक अलग से बस डिपो भी स्थापित करने की प्रक्रिया जारी है।

इस दौरान मां अमृता आनंदमयी ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल को आशीर्वाद देते हुए कहा कि उनका सपना है कि कोई भी व्यक्ति अच्छी स्वास्थ्य सेवाओं से वंचित न रहे। इसी सोच के साथ उन्होंने कोच्चि के बाद फरीदाबाद में यह दूसरा अस्पताल स्थापित किया है। उन्होंने कहा कि वह स्वयं तो केरला में रहती है और यहां अस्पताल आप सभी लोगों को ही संभालना है। उन्होंने मदद के लिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल का धन्यवाद भी किया। इस पर मुख्यमंत्री ने मां अमृता आनंदमयी का आभार जताया कि हरियाणा सरकार मानवता के लिए किए गए इस बेहतरीन कार्य के लिए हमेशा साथ खड़ी है।

इसके बाद मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रस्तावित दौरे को लेकर तैयारियों का निरीक्षण भी किया और अधिकारियों को दिशा-निर्देश भी दिए। इस अवसर पर प्रदेश के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा, तिगांव से विधायक राजेश नागर, भाजपा जिला अध्यक्ष गोपाल शर्मा, मुख्यमंत्री के राजनैतिक सचिव अजय गौड़, मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार अमित आर्य, मीडिया कार्डिनेटर मुकेश वशिष्ठ, स्वामी अमृताश्वरुपानंद पुरी, स्वामी निजामृतानंदपुरी, अमृता अस्पताल के निदेशक डॉ. संजीव सिंह, एडीजीपी आलोक मित्तल, मंडल आयुक्त संजय जून, पुलिस आयुक्त विकास अरोड़ा, उपायुक्त यशपाल सहित कई गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here