झारखंडः जम्मू में तैनात जवान का शव जैसे ही घर पहुंचा पत्नी ने लगा दी कुएं में छलांग

575

रांची। झारखंड के रांची शहर के चान्हो थाना क्षेत्र में बहेराटोली गांव के रहने वाले वान बजरंग भगत की मौ के बाद गुरुवार सुबह उनकी पत्नी मनीत उरांव ने खुदकुशी कर ली। बीते साल 29 दिसंबर को बजरंग की मौत के बाद उनके शव को पैतृक गांव लाया गया था। गुरुवार को जवान बजरंग का अंतिम संस्कार किया जाना था। लेकिन उससे पहले ही उनकी पत्नी ने कुएं में कूदकर खुदकुशी कर ली।

घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने महिला के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। ग्रामीणों के अनुसार दो साल पहले ही जवान बजरंग की मौत हुई थी। मृतक मनीता रातू की रहने वाली थी। घटना की सूचना पाकर मृतक महिला के मायके वाले ससुराल पहुंचे और परिजनों ने ससुराल के लोगों पर हत्या का आरोप लगाया।

मृतका के परिजनों का कहना है कि बच्चा नहीं होने पर बजरंग की पत्नी मनीता उरांव को उसकी ननद ताने देती रहती थी।

बता दें कि बजरंग भगत के पिता का निधन पहले ही हो चुका है। पांच बहनों की शादी हो चुकी है। घर में अब उनकी बूढ़ी मां है। बजरंग साल 2012 में सेना में भर्ती हुए थे। बजरंग भगत रेजिमेंटल सेंटर नागपुर महाराष्ट्र के यूनिट 17 में गार्ड के पद पर पदस्थापित थे। तीन माह पहले ही उनकी जम्मू में पोस्टिंग हुई थी। यूनिट के सीओ कर्नल विजय सिंह ने फोन कर परिजनों को जानकारी दी कि सोने के दौरान बिस्तर से गिरने के कारण उनकी मौत हो गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here