जामिया छात्रों के समर्थन में आईं प्रियंका गांधी, कांग्रेस नेताओं के साथ इंडिया गेट पर दिया धरना

283

नई दिल्ली। रविवार को जामिया छात्रों पर दिल्ली पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई के विरोध में कांग्रेस नेता प्रियंका गाधी इंडिया गेट पर धरने पर बैठीं, करीब चार बजे शुरू हुआ उनका धरना शाम 6 बजे खत्म हुआ। धरना खत्म करने के बाद प्रियंका गांधी ने कहा कि सरकार ने संविधान का पालन नहीं किया। यह राष्ट्र की आत्मा पर हमला है, युवा राष्ट्र की आत्मा है। विरोध करना उनका अधिकार है। मैं भी एक माँ हूँ। आपने उनकी लाइब्रेरी में प्रवेश किया, उन्हें बाहर निकाला और उनकी पिटाई की। यह अत्याचार है।
प्रियंका गांधी ने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा, “प्रधानमंत्री को इस बात पर जवाब देना चाहिए कि कल विश्वविद्यालय में क्या हुआ, किसकी सरकार ने छात्रों के साथ मारपीट की?

उन्हें डूबती अर्थव्यवस्था पर बोलना चाहिए। उनकी पार्टी के विधायक ने एक लड़की के साथ बलात्कार किया, उस पर बात क्यों नहीं की?”
इंडिया गेट पर प्रियंका गांधी के साथ धरने में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता केसी वेणुगोपाल, एके एंटनी, पीएल पुनिया, अहमद पटेल शामिल हैं। धरने से पहले मीडिया कर्मियों से बात करते हुए प्रियंका गांधी ने कहा कि देश का वातावरण खराब है। पुलिस विश्वविद्यालय में घुस कर छात्रों को) पीट रही है। सरकार संविधान से छेड़छाड़ कर रही है। हम संविधान के लिए लड़ेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here