कोरोना वायरस ने तेजस्वी के कार्यक्रम पर लगाई रोक

296

कोरोना महामारी के कारण राज्य में एक बार फिर से समस्या और भय बढ़ने लगा है और एक बार फिर से राजनीतिक सांस्कृतिक और धार्मिक कार्यक्रमों पर रोक लग गई है वहीँ नीतीश कुमार को बड़ा राहत हुई है. नीतीश सरकार को सियासी राहत मिली है. कोरोना ने विपक्ष के अभियान को कमजोर कर दिया है.

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव जिलों का दौरा करने जाने वाले थे जो अब टल गया है. कांग्रेस भी इस दौरान प्रखंडो में धरना का कार्यक्रम और प्रदर्शन कार्यक्रम बना रहा था जो स्थगित हो गया. राज्य के दोनों मुख्य विपक्षी दलों राजद और कांग्रेस ने अपने जिला और प्रखंड कमेटियों को कोरोना प्रोटोकॉल के तहत किसी भी कार्यकर्म को मंजूरी नहीं दी है. बढ़ रहे संक्रमण के वजह से राजद कार्यालय में ताला लगा गया और कांग्रेस मुख्यालय सदाकत आश्रम में बिना ताला लगे ही बड़े नेताओ ने आना-जाना छोड़ दिया।

मधुबनी दौरे पर जाने के बाद तेजस्वी यादव भी दिल्ली वापस आ गए हैं. पार्टी के अंदर भी स्थिति स्थगित जो गई है. जगदानं सिंह ने भी सभी कार्यक्रमों को स्थगित कर दिया है. 14 अप्रैल को बाबा साहब जयंती के मौके पर भी एक छोटा कार्यक्रम आयोजित करने की सम्भावना है. वहीँ पार्टी के कुछ प्रमुख नेताओं के साथ बेहद कम संख्या में पदाधिकारियों के शामिल होने की सम्भावना है.

बता दे कि विधानसभा में हो रही विपक्षी विधायकों के पिटाई सहित अन्य मुद्दों को लेकर तेजस्व यादव ने सरकार के खिलाफ जिला स्तर पर दौरा करने वाले थे मगर कोरोना के वजह से इस पर रोक लग गई है. वहीँ बिहार कांग्रेस अध्यक्ष मदन मोहन झा और बिहार प्रभारी भक्त चरण दास के कोरोना संक्रमित हो जाने के वजह से वहां भी सभी कार्यक्रम स्थगित हो गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here