इंफोसिस का मुनाफा 11 प्रत‍िशत बढ़कर 4457 करोड़ हुआ

295

नई द‍िल्‍ली। वित्त वर्ष 2020 की तीसरी तिमाही में आईटी कंपनी इंफोसिस का मुनाफा तिमाही आधार पर 11 फीसदी बढ़ गया है। इस दौरान कंपनी को 4457 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ है। जबकि सितंबर तिमाही में कंपनी का मुनाफा 4019 करोड़ रुपये रहा था। वहीं, सालाना आधार पर भी इंफोसिस का मुनाफा करीब 24 फीसदी बढ़ा है। बता दें एक साल पहले की समान अवधि में कंपनी को 3609 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था। वहीं इस दौरान कंपन ने रेवेन्यू ग्रोथ गाइडेंस में बढ़ोत्तरी कर 10-10.5 फीसदी कर दिया है। एक्सिस बैंक के 15 हजार कर्मचारियों ने छोड़ी नौकरी, जानिए क्या है वजह

इंफोसिस ने वित्त वर्ष 2020 के लिए रेवेन्यू ग्रोथ गाइडेंस बढ़ाकर 9-10 फीसदी कर दिया है।

सितंबर तिमाही में कंपनी ने रेवेन्यू ग्रोथ गाइडेंस 9-10 फीसदी रखा था, जबकि जून तिमाही में यह 8.5-10 फीसदी रखा गया था। इंफोसिस ने EBIT ऑपरेटिंग मार्जिन गाइडेंस रेंज 21-23 फीसदी बरकरार रखा है।

सालाना आधार पर भी ग्रोथ

वहीं रुपये के टर्म में रेवेन्यू तिमाही आधार पर करीब 2 फीसदी बढ़कर 230932 करोड़ रुपये हो गया है। जबकि सितंबर तिमाही में यह 22629 करोड़ रुपये रहा था। सालाना आधार पर भी इसमें ग्रोथ रही है। एक साल पहले की समान अवधि इंफोसिस का रेवेन्यू 21,400 करोड़ रुपये रहा था। दिसंबर तिमाही के लिए इंफोसिस का आपरेटिंग मार्जिन 21.90 फीसदी रहा है। जबकि एक साल पहले की समान अवधि में यह 22.60 फीसदी था। आपरेटिंग प्रॉफिट बढ़कर 5064 करोड़ हो गया जो एक साल पहले की समान अवधि में 4830 करोड़ रुपये था।

दिसंबर तिमाही में कंपनी ने कुल 84 नए क्लाइंट जोड़े

सालाना आधार पर इंफोसिस का डिजिटल ग्रोथ 40.8 फीसदी रहा है। कांस्टेंट करंसी ग्रोथ सालाना आधार पर 9.5 फीसदी रहा है। जबकि तिमाही आधार पर 1 फीसदी रहा. इस दौरान कंपनी को 180 करोड़ डॉलर के नए आर्डर मिले। जानकारी दें कंपनी ने दिसंबर तिमाही में कुल 84 नए क्लाइंट जोड़े। सितंबर तिमाही में कंपनी ने 96 और एक साल पहले की समान तिमाही में 101 नए क्लाइंट जोड़े थे। कंपनी के एक्टिव क्लाइंट दिसंबर तिमाही में बढ़कर 1384 हो गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here