अब रोहित शर्मा ने दिया 4 दिन के टेस्ट मैच पर बड़ा बयान

319

नई दिल्ली। Rohit Sharma on four day Test: इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) ने 4 दिन का टेस्ट मैच कराने का प्लान तैयार किया था, जिसे 2023 से इंप्लीमेंट किया जाना था। इसी बीच कुछ क्रिकेट बोर्ड और तमाम क्रिकेटर आइसीसी के इस फैसले के विरोध में खड़े हो गए हैं। हालांकि, कुछ लोग ऐसे भी हैं जो इस फैसले का स्वागत कर रहे हैं, लेकिन रोहित शर्मा ने चार दिन के टेस्ट मैच पर अपनी अलग राय रखी है।

आइसीसी का मानना है कि 5 दिन की बजाय 4 दिन का टेस्ट मैच कराने पर कैलेंडर ईयर में समय बचेगा, जिसमें कुछ अन्य टूर्नामेंट आयोजित कराए जा सकते हैं। इसके अलावा खिलाड़ियों का वर्कलोड भी कम होगा।

उधर, भारतीय टीम के उपकप्तान और टेस्ट ओपरन बन चुके रोहित शर्मा ने आइसीसी के चार दिन के टेस्ट मैच के फैसले को लेकर कहा है कि अगर टेस्ट मैच 5 दिन की जगह 4 दिन का होगा तो वो फर्स्ट क्लास क्रिकेट मैच होगा।

अगर 4 दिन का मैच होगा तो वो टेस्ट नहीं होगा

रोहित शर्मा ने हिंदुस्तान टाइम्स से बात करते हुए कहा, “यदि यह मैच 4 दिन का होगा तो यह टेस्ट मैच नहीं होगा। चार दिन का मतलब है एक फर्स्ट क्लास मैच। यह बहुत ही साधारण सी बात है।” बता दें कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने अभी तक आइसीसी के इस प्लान पर कुछ नहीं बोला है, लेकिन कप्तान विराट कोहली चार दिन के टेस्ट मैच के एकदम खिलाफ हैं।

इसके अलावा सचिन तेंदुलकर, गौतम गंभीर, कुलदीप यादव और संदीप पाटिल जैसे तमाम बड़े क्रिकेटर आइसीसी के इस फैसले के विरोध में हैं। उधर, भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और मौजूदा आइसीसी की क्रिकेट कमेटी के अध्यक्ष अनिल कुंबले ने कहा है कि वो इस फैसले के बारे में आइसीसी की अगली मीटिंग में विचार करेंगे। गौरतलब है कि रोहित शर्मा ने श्रीलंका के खिलाफ खेली जा रही 3 मैचों की टी20 सीरीज से आराम लिया हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here