पटना कुख्यात अपराधी मानिश मलिक पुलिस की गिरफ्त में आया

90
  • *@जिया
  • *पूर्व में भी कई संगीन मामलों में दर्ज है एफआईआर*
    पटना राजधानी पटना में बढ़ते अपराध की घटनाएं आये दिन लोगों के लिए मुसीबत का सबब बनती जा रही है। अपहरण, फिरौती, लूट, हत्या व बलात्कार सरीखी घटनाएं पुलिस की नींद हराम कर रही है। साथ ही प्रशासन की कार्यशैली पर भी सवालिया निशान उठा रही है। राज्य में होने वाली ज्यादातर घटनाओं में युवाओं की संलिप्तता खुलकर सामने आ रही है। कुछ ऐसा ही एक मामला बुधवार को राजधानी पटना में सामने आया। राजधानी के फुलवारीशरीफ इलाके के नयाटोला स्थित मस्जिद के पास एक कुख्यात अपराधी मो मानिश मलिक पुलिस की गिरफ्त में आ गया। यह शुरु से ही अपराधिक घटनाओं में संलिप्त रहा है। पुलिस को काफी समय से इसकी तलाश थी। मगर यह खुद ही पुलिस की चंगुल में फंस गया। पुलिस की खुफिया तंत्र ने इस अपराधी को खोज निकाला और अब यह सलाखों के पीछे चला गया है। मानिश की गिरफ्तारी से इसके इलाके के लोग काफी सुकून में हैं। मानिश के पिता का नाम मो वहाबुद्दीन है। मानिश की गिरफ्तारी फुलवारी थाना में हुई है। पुलिस के मुताबिक इसका पुराना आपराधिक रिकॉर्ड रहा है। अपने इलाके में इसने काफी दहशत फैला रखा था। दर्जनों अपहरण, लूट व हत्या जैसे कई संज्ञीन अपराध को इसने अंजाम दिया था। इसके खिलाफ गांधी मैदान,पीरबहोर समेत पूर्व में फुलवारी थाना में भी दो बार मामले दर्ज हैं। इसकी दहशत से लोग काफी परेशान रहते थें। मानिश पटना में दहशत का पर्याय बन चुका था। यह किंग आफ पटना नाम का एक गैंग भी चलाता है। जिसमें बाईकर्स गैंग से जुड़े कई ऐसे युवा जुड़े हैं। जिनका अपराध की दुनिया में बोलबाला है। अपराध करना और लोगों को लूटना इनकी फितरत बन चुकी है। मानिश के साथ उनके साथ अपराध को अंजाम देने वाले कुछ और उनके साथी भी पुलिस की गिरफ्त में आए हैं। पुलिस ने बताया कि इन लोगों ने कई संगीन अपराध को अंजाम दिया है। इनकी गिरफ्तारी हो गयी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here