हरियाणा का मेवात गैंग कर रहा सेक्सटॉर्शन,आइए जानते है कैसे ?

44

इश्योरेंस के नाम पर लिया वाट्सएप नंबर, वीडियो कॉल कर अश्लील तस्वीर ले करने लगा ब्लैकमेल, मांगी रंगदारी
दानापुर निवासी एक इंश्याेरेंस कंपनी के एजेंट से सेक्सटॉर्शन करने वाले गिरोह ने इंश्योरेंस लेने के नाम पर वाट्सएप नंबर ले लिया और फिर वीडियो कॉल कर अश्लील फोटो का स्क्रीनशॉट ले लिया. इसके बाद उस फोटो को सोशल मीडिया पर अपलोड करने की धमकी देते हुए 50 हजार रंगदारी मांगी. लेकिन एजेंट ने जब पैसे देने से इन्कार कर दिया, तो उसे दिल्ली साइबर क्राइम सेल का एक अधिकारी होने का दावा कर जालसाज ने फोन किया और पैसे नहीं देने पर उसके खिलाफ केस दर्ज करने की धमकी देने लगा. लगातार आ रहे फोन से परेशान होकर इंश्योरेंस एजेंट ने साइबर क्राइम सेल को लिखित शिकायत की है. इसके साथ ही वह एकाउंट नंबर भी दिया है, जिस पर 50 हजार रुपये डालने को बदमाशों ने कहा था.

हरियाणा का मेवात गैंग कर रहा सेक्सटॉर्शन

इंश्योरेंस एजेंट को जो एकाउंट नंबर दिया गया था और जहां से कॉल आया था, वह हरियाणा के मेवात का था. इससे स्पष्ट हो गया कि हरियाणा का मेवात गैंग ही सेक्सटॉर्शन के खेल में लगा है. इसके अलावा गर्दनीबाग व कंकड़बाग में आये पूर्व में इस तरह के मामले के तार भी हरियाणा से जुड़ेथे. हालांकि अब तक एक भी अपराधी गिरफ्तार नहीं हो पाया है.
एक लड़की ने इंश्योरेंस एजेंट से फेसबुक पर दोस्ती की. इसके बाद उसने मैंसेंजर पर इंश्योरेंस एजेंट से सारा डिटेल ले लिया और यह बताया कि वह पांच लाख का इंश्योरेंस कराना चाहती है. इसके लिए वह अपना वाट्सएप नंबर दे, ताकि उस पर अपनी जानकारी भेज सके. एजेंट ने वाट्सएप नंबर दे दिया. इसी बीच सुबह में ही वीडियो कॉल आया, जिसे एजेंट ने रिसीव कर लिया.
एजेंट ने जिस लड़की का वीडियो कॉल रिसीव किया, वह नग्न थी. एजेंट जब तक कुछ समझ पाता, उससे पहले ही उस लड़की ने स्क्रीन शॉट ले लिया. इसके बाद उसी स्क्रीन शॉट को एजेंट के वाट्सएप पर भेज दिया और 50 हजार रुपये उसके दिये गये एकाउंट में नहीं डालने पर सोशल मीडिया पर अपलोड करने व साइबर क्राइम सेल में शिकायत करने की धमकी दी. पहले एजेंट लोकलाज से डर गया.

लेकिन कुछ देर बाद उसने पुलिस को खबर देना मुनासिब समझा और रकम नहीं दी. इसके बाद फिर से एक अज्ञात व्यक्ति ने फोन किया और बताया कि वह दिल्ली के साइबर क्राइम सेल से बात कर रहा है. एक लड़की ने उसके खिलाफ शिकायत की है. इस बात की जानकारी भी एजेंट ने बिहार साइबर क्राइम सेल को दी. इसके साथ ही जांच शुरू कर दी. इधर, जब बदमाशों को कुछ हासिल नहीं हुआ तो उसने एजेंट को फोन करना बंद कर दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here