मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है, Cricket के इतिहास के इन 6 विश्व रिकार्ड्स को तोड़ना

22

क्रिकेट (Cricket) के इतिहास में कई ऐसे महान खिलाड़ी भी आए जिन्होंने अपने प्रदर्शन से फैंस का मनोरंजन तो किया ही साथ ही साथ उन्होंने कई ऐसे रिकार्ड्स को जन्म भी दिया जिसे तोड़ना नामुमकिन सा लगता है।

इन रिकार्ड्स को तोड़ने का अभी तक सिर्फ सपना ही देखा जा रहा है। क्रिकेट (Cricket) की दुनिया में 6 ऐसे विश्व रिकॉर्ड हैं जिन्हें तोड़ना लगभग नामुमकिन है। आइए एक नजर डालते हैं क्रिकेट (Cricket) की दुनिया के ऐसे ही 6 विश्व रिकॉर्ड पर।

सचिन तेंदुलकर के 100 शतक

क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) का नाम दुनिया के दिग्गज खिलाड़ियों की सूची में शुमार है। अपने करियर में सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने 100 शतक जड़े हैं, जिसे तोड़ना लगभग ना के बराबर है। कहा जाता है कि विराट कोहली (Virat Kohli) इस रिकॉर्ड को अपने नाम कर सकते हैं जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट (Cricket) में 70 शतक लगाए हैं। हालांकि, कोहली के लिए भी यह किसी चुनौती से कम नहीं हैं। अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने वनडे में 15,921 रन और टेस्ट में 18,426 रन बनाए हैं। इसके साथ ही उन्होंने कुल 201 विकेट भी हासिल किये हैं।

सर डॉन ब्रेडमैन का टेस्ट मैचों में 99.94 का औसत

क्रिकेट (Cricket) के इतिहास में ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज खिलाड़ी डोनाल्ड ब्रेडमैन यानी सर डॉन ब्रेडमैन (Don Bradman) ने 52 टेस्ट मैच ही खेले हैं। क्रिकेट (Cricket) की दुनिया में उनसे बेहतरीन बल्लेबाज ना तो आज तक देखा गया और ना ही शायद देखने को मिलेगा। सर डॉन ब्रेडमैन (Don Bradman) ने पने करियर में टेस्ट 6996 रन बनाए हैं और इस दौरान उनका बल्लेबाजी औसत 99.94 का रहा है जो क्रिकेट (Cricket) के इतिहास में सबसे ज्यादा है। उनका यह रिकॉर्ड आज तक कायम है। आज के समय में इस रिकॉर्ड को तोड़ना तो दूर कोई भी बल्लेबाज इस रिकॉर्ड के आगे फटकता भी नहीं है। इसके साथ ही उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा 12 दोहरे शतक भी जड़े हैं।

ब्रायन लारा के 400 टेस्ट रन

ब्रायन लारा (Brian Lara) का नाम क्रिकेट (Cricket) के इतिहास के विस्फोटक बल्लेबाजों की लिस्ट में शुमार है। ब्रायन लारा (Brian Lara) ने साल 2004 में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच में नाबाद 400 रन बनाए थे और यह रिकॉर्ड आज भी कायम है। भविष्य में भी इस रिकॉर्ड के टूटने के कोई आसार नहीं दिख रहे हैं। एक समय पर ऐसा लगा था कि डेविड वॉर्नर इस रिकॉर्ड को तोड़ सकते हैं लेकिन ऐसा हो नहीं पाया। इसके साथ ही ब्रायन लारा (Brian Lara) ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में नाबाद 501 रन की भी पारी खेली है।

मुथैया मुरलीधरन के 1300 अंतरराष्ट्रीय विकेट

श्रीलंका ऑफ स्पिनर मुथैया मुरलीधरन (Muttiah Muralitharan) के नाम अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 1300 से ज्यादा विकेट चटकाने का रिकॉर्ड दर्ज है। उन्होंने अपने करियर में 133 टेस्ट, 350 वनडे और 12 टी20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं और कुल मिलकर मुथैया मुरलीधरन (Muttiah Muralitharan) ने 1347 विकेट हासिल किये हैं, जो क्रिकेट (Cricket) के इतिहास का अटूट रिकॉर्ड है। मुरलीधरन के इस रिकॉर्ड तक पहुंचना हर खिलाड़ी के बस की बात नहीं है।

रोहित शर्मा के 264 रन

वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में दोहरा शतक जड़ने की शुरुआत सचिन तेंदुलकर ने की थी लेकिन इसे आगे बढ़ाने का काम रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने किया जिनके नाम एक नहीं बल्कि तीन दोहरे शतक दर्ज हैं। उन्होंने वनडे क्रिकेट में 264 रन का विशालकाय स्कोर खड़ा किया है जिसे तोड़ना हर किसी के बस की बात नहीं है। इसके साथ ही रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने एक विश्व कप में सबसे ज्यादा 5 शतक जड़े हैं, जो किसी एक विश्व कप में एक बल्लेबाज द्वारा लगाए गए सबसे ज्यादा शतकों का रिकॉर्ड है।

कम गेंदों में डिविलियर्स का शतक

एबी डिविलियर्स (AB de Villiers) अब इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं लेकिन उनके रिकॉर्ड की तूती आज भी बोल रही है। साल 2015 में जोहानिसबर्ग में वेस्टइंडीज के खिलाफ उन्होंने मात्र 31 गेंदों में शतक जड़ा था। उस मैच में डिविलियर्स ने 44 गेंदों में 149 रन बनाए थे। इस दौरान उनके बल्ले से 16 छक्के और 9 चौके भी निकले थे। एबी डिविलियर्स (AB de Villiers) का यह रिकॉर्ड आज भी कायम है जिसे तोड़ना किसी भी बल्लेबाज के लिए आसान नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here