बिहार : कब से चलनी शुरू होंगी ट्रेनें, रेलवे ने जानिए क्‍या कहा? आज भी 348 रेलगाड़‍ियां रद, 12 का समय बदला

20

पटना : सेना भर्ती की नई स्‍कीम ‘अग्‍न‍िपथ’ के विरोध की आड़ में रेल की संपत्‍त‍ि को निशाना बनाने वाले उपद्रवियों की करतूत का खामियाजा अब बिहार, असम, पश्चिम बंगाल, उत्‍तर प्रदेश और झारखंड सहित तमाम राज्‍यों के करोड़ों लोग भुगत रहे हैं।

इसका कारण है बिहार के रास्‍ते चलने वाली ज्‍यादातर ट्रेनों का परिचालन रद होना। पूर्व मध्‍य रेलवे के दानापुर डिवीजन से खुलने वाली सभी ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिया गया है। पूरे ईसीआर रीजन में 348 से अधिक ट्रेनों को रद किया गया है। दूसरे राज्‍यों से खुलकर बिहार से गुजरने वाली ट्रेनें भी इससे बुरी तरह प्रभावित हुई हैं। 12 ट्रेनों का समय बदला गया है, जबकि तीन ट्रेनों को शार्ट टर्मिनेट किया गया है।

रव‍िवार से भी कम ट्रेनें आज चलेंगी

अग्निपथ योजना को लेकर सोमवार को भी धरना-प्रदर्शन व उपद्रव की संभावना को देखते हुए पूर्व मध्य रेल के अधिकार क्षेत्र से खुलने और गुजरने वाली 348 ट्रेनों को सोमवार को भी रद कर दिया है। पटना से प्रमुख शहरों की ओर जाने वाली अधिसंख्य प्रमुख ट्रेनें रद हैं। रविवार को भी रेल प्रबंधन की ओर से 362 ट्रेनों का परिचालन रद कर दिया गया था। राजधानी व संपूर्ण क्रांति समेत कई महत्वपूर्ण ट्रेनें रद रहीं। इन ट्रेनों का वापसी में भी दिल्ली से परिचालन रद रखा गया है।

गुरुवार से ही चल रही ऐसी स्‍थ‍िति

उपद्रवियों ने गुरुवार को ट्रेन यातायात को बाध‍ित करना शुरू किया। उसी दिन रेलवे को कई ट्रेनें रद करनी पड़ी थीं। कई ट्रेनों और स्‍टेशनों को आग लगा दी गई। अगले दिन शुक्रवार को भी यही क्रम जारी रहा। इसके चलते गुरुवार और शुक्रवार को भी ट्रेन परिचालन बाधित हुआ। शनिवार से पूर्व मध्‍य रेलवे ने तमाम ट्रेनों का परिचालन बंद करना शुरू कर दिया। यह स्‍थ‍िति रविवार को जारी रही। शन‍िवार और रवि‍वार को दूसरे राज्‍यों या दूसरे रेल जोन से आने वाली कुछ ट्रेनें बिहार के रास्‍ते गुजरीं। इस दौरान भी कुछेक जगहों पर ट्रेनों को निशाना बनाने की कोश‍िश की गई। इसके बाद रेलवे ने फिलहाल ट्रेनों का परिचालन बंद ही रखने का फैसला किया।

Dainik Jagran

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here