‘कोहली के पास है फेल होने का हक’, खराब फॉर्म पर विराट के समर्थन में उतरे डेविड वॉर्नर

15

नई दिल्ली। भारतीय कप्तान विराट कोहली पिछले कुछ समय से बल्लेबाजी में संघर्ष करते नजर आ रहे हैं। सचिन तेंदुलकर के बाद भारत के लिये सबसे ज्यादा अंतर्राष्ट्रीय शतक लगाने वाले इस खिलाड़ी के लिये नवंबर 2019 के बाद से अब तक कोई शतक नहीं आ सका है।

इतना ही नहीं पिछले कुछ समय में उनकी बल्लेबाजी की औसत में भी गिरावट देखने को मिली है और 2021 के दौरान वो 4 बार जीरो पर भी आउट हुए। कोहली की खराब बल्लेबाजी के चलते भारतीय फैन्स काफी चिंतित नजर आ रहे हैं और कुछ पूर्व क्रिकेटर्स ने उनकी आलोचना करनी भी शुरू कर दी है।

विराट कोहली के शतकों का सूखा 777 दिनों से चला आ रहा है, इस बीच ऑस्ट्रेलिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने विराट कोहली की फॉर्म को लेकर अपनी बात कही और तारीफ करते हुए आलोचकों से उनकी परिस्थिति को समझने की बात की। डेविड वॉर्नर ने कोहली के इस दौर की बात करते हुए कहा कि वो बहुत अच्छे से उनकी परिस्थिति समझ सकते हैं, तो ऐसे में उनके आलोचकों से यही निवेदन है कि वो उनकी परिस्थिति को समझें।

बैकस्टेज विद बोरिया के शो में बात करते हुए डेविड वॉर्नर ने कोहली के अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में खराब दौर पर बात की और कहा कि विराट ने अपने करियर में जितना कुछ हासिल किया है उसके बाद उन्होंने फेल होने का अधिकार हासिल कर लिया है। इसके साथ ही उन्होंने आलोचकों से कोहली की परिस्थिति समझने की बात कही और कहा कि हर क्रिकेटर इस समय बायोबबल की मुश्किल लाइफ में रह रहा है और कोहली तो पिछले साल ही पिता बने हैं, ऐसे में उनकी सिचुएशन समझना जरूरी है।

उन्होंने कहा,’पिछले कुछ समय में विराट कोहली की फॉर्म को लेकर काफी बात चीत हो रही है। हम सभी महामारी के दौर से गुजर रहे हैं, वो हाल ही में पिता बने हैं। हम बस यह देखते हैं कि वो कितना अच्छा कर रहे हैं, जबकि सच तो यह है कि उन्हें फेल होने का अधिकार भी हैं क्योंकि उन्होंने यह हक कमाया है। आंकड़े कहते हैं कि स्मिथ हर चौथी पारी में शतक लगाते हैं और जब वो चौथी पारी में ऐसा नहीं कर पाते तो लोग बातें करने लग जाते हैं। हम भी इंसान हैं और हमें भी एक खराब दौर से गुजरने का हक है। यही वजह है कि स्मिथ और कोहली जैसे खिलाड़ियों पर ज्यादा दबाव होता है। लेकिन मुझे यकीन है कि आपको उनके चेहरे पर कभी भी वो दबाव नजर नहीं है।’

उल्लेखनीय है कि विराट कोहली इस समय भारतीय टीम के साथ साउथ अफ्रीका में सीरीज खेलने पहुंचे हैं, जहां पर सेंचुरियन में उनकी कप्तानी में टीम ने जीत हासिल की, जबकि जोहान्सबर्ग में वो पीठ में खिंचाव की वजह से खेल नहीं सके और टीम 7 विकेट से हार गई। सीरीज के आखिरी मैच में विराट का वापसी करना तय हो गया है, ऐसे में टीम जीत के साथ सीरीज को अपने नाम कर इतिहास रचने की ओर देखेगी।

आपको बता दें की सीरीज का आखिरी मैच केपटाउन के मैदान पर 11 जनवरी से खेला जायेगा। वहीं पर डेविड वॉर्नर एशेज में 3-0 से आगे चल रही ऑस्ट्रेलियाई टीम का हिस्सा हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here