आरजेडी और जदयू के बाद अब पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी और कांग्रेस

11
  • इफ्तार पार्टी के बहाने बिहार में राजनीति पूरे जोर पर है। आरजेडी और जदयू के बाद अब पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी और कांग्रेस पार्टी ने शुक्रवार को दावत-ए-इफ्तार का आयोजन किया। इसमें सत्ता पक्ष और विरोधी भी शामिल हुए। सीएम नीतीश कुमार, LJP (R) प्रमुख चिराग पासवान, VIP के मुखिया मुकेश सहनी, सुशील मोदी, उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन शामिल हुए।
  • हालांकि सीएम के जाने के बाद नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव पहुंचे। इसके पहले वह कांग्रेस की इफ्तार पार्टी में वे शामिल हुए। कुछ देर बाद लालू के बड़े बेटा तेजप्रताप यादव भी मांझी की इफ्तार पार्टी में पहुंचे। इस दौरान उन्होंने पूरे मांझी परिवार के साथ अलग से तस्वीर खिंचवाई। हालांकि जैसे ही मांझी के घर से वह बाहर निकले। कुछ लोग उनका विरोध करने लगे। कहने लगे- तेजप्रताप भइया दो मिनट दीजिए। तेजप्रताप इसे नजरअंदाज करके आगे बढ़ने लगे। सुरक्षाकर्मियों ने तेजप्रताप को कार में बैठाकर रवाना किया। इस दौरान सुरक्षाकर्मियों और विरोध कर रहे लोगों के बीच धक्कामुक्की भी हुई। इसके बाद नारेबाजी होने लगी।
  • सीएम नीतीश साथ बैठे तो शराबबंदी पर नजदीक आए मांझी
  • इफ्तार पार्टी में सीएम नीतीश कुमार जीतन राम मांझी के साथ बैठे। इसके बाद मंच पर जीतन राम मांझी ने शराबबंदी पर बने पोस्टर शराब हराम है… दिया है । यह एक बड़ा परिवर्तन माना जा रहा है। शराबबंदी के पक्ष में जीतन राम मांझी नहीं दिखे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here